University वीजा घोटाले में अमेरिका में 129 भारतीय स्टूडेंट गिरफ्तार, विदेश मंत्रालय ने शुरू की हॉटलाइन सेवा

0
3570
Loading...

अमेरिका: पे एंड स्टे यूनिवर्सिटी वीजा घोटाले में अमेरिका ने 130 छात्रों को गिरफ्तार कर लिया है जिसमे 129 छात्र भारत के है। इतनी ज्यादा संख्या में भारतीय छात्रों की गिरफ़्तारी के बाद विदेश मंत्रायल हरकत में आ गया है। वही छात्रों की मदद के लिए विदेश मंत्रायल ने दो 24/7 हॉटलाइन सेवा के साथ एक ईमेल आईडी भी जारी कर चूका है।

वही इस मामले में मंत्रायल का कहना है की छात्रों को फर्जी तरीके से फसाया गया है। यूनिवर्सिटी अवैध तरीके से काम कर रही थी। खबरों की माने तो, छात्रों ने स्टूडेंट वीजा का गलत इस्तेमाल करते हुए बिना क्लास अटेंड किये रुकने का पैसा भर दिया।

जाँच में यह भी दावा किया गया है की यह फर्जीवाड़ा काफी टाइम से चल रहा था। वही इस फर्जीवाड़े को पकड़ने के लिए एक फर्जी फार्मिगंटन नाम का विश्वविद्यालय बनाया गया। इस यूनिवर्सिटी को असली दिखाने के लिए एडमिशन भी किये गए। फिर इस फर्जी फार्मिगंटन नाम की यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने वाले छात्रों के वीजे की जांच गई। जिसके बाद इसमें फर्जीवाड़ा पाया गया फिर छात्रों की गिरफ्तारी की गई है।

हालांकि, इंडिया की तरफ से दिए गए ब्यान में कहा गया है की छात्रों को यूनिवर्सिटी के फर्जी होने की जानकारी नहीं थी। अधिकारियों ने उन छात्रों को जान भूझकर फसाया है। वही अमेरिका की इस तरह छात्रों की गिरफ़्तारी पर भी सवाल उठाये। लेकिन सरकारी अधिकारियों का इस मामले में कहना है की छात्रों को पता था की इस यूनिवर्सिटी में कोई क्लास नहीं चलने वाला है। फिर भी उन्होंने पैसा भरा था। हम पूरे देश से ऐसे लोगो को गिरफ्तार कर रहे है।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए छात्रों की मदद के लिए 24/7 के लिए दो नंबरों 202-322-1190 और 202-340-2590 की हॉटलाइन कर दी है। साथ ही जानकारी दी गयी है की छात्रों की मदद के लिए इंडियन एम्बेसी के दो सीनियर अधिकारी मदद के लिए चौबीस घंटे उपलब्ध रहेंगे। इसके साथ-साथ विदेश मंत्रालय ने cons3.washington@mea.gov.in मेल आईडी भी जारी की। इस पर छात्र के परिवार वाले या गिरफ्तार छात्र संपर्क कर सकते है।

Loading...