मवेशी चुराने के शक में 55 साल के बुजुर्ग को उग्र भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला- देखे वीडियो

0
588

बिहार: बिहार के राजधानी पटना से लगभग 300 किमी दूर सिमारबनी गांव में एक 55 साल के बुजुर्ग को मवेशी चुराने के शक में भीड़ ने पीट-पीट कर मार डाला। उग्र भीड़ ने बकायदा इसका वीडियो भी बनाया है। जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो में आप देख सकते है की किस तरह बुजुर्ग को लाठी-डंडों से पीटा जा रहा। है और साथ ही चोर-चोर कहा जा रहा है।

वही मॉब लिंचिंग का शिकार हुए काबुल मियां की मौत पर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आड़े हाथो लिया। सोशल मीडिया के माध्यम से तेजस्वी ने कहा की मुख्यमंत्री ने बिहार को ‘लिंच बिहार’ बना दिया है।

खबरों के अनुसार, 29 दिसंबर को हुई इस लिंचिंग में वीडियो में कुछ हमलावरों के चेहरे साफ़ दिखाई दे रहे है। लेकिन अभी तक उनकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। वही खबर ये है की काबुल मियां को मुस्लिम मियां नाम के व्यक्ति के कहने पर पीट रहे थे। वही पीटने के बाद हमलावरों ने काबुल मियां के पयजामा तक उतार दिया है जो वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है।

वही खबर में जनसत्ता के अनुसार दावा किया जा रहा है की काबुल मियां हमलावरों को जानते थे। जिनसे रहम करने के बदले पैसे और जमीन-जायदाद भी देने की बात कर रहे है। लेकिन वो पीटते रहे जिससे काबुल मियां की मौके पर ही मौत हो गई।

इस वायरल वीडियो में साफ़ सुना जा सकता है की काबुल मियां कह रहे है की उन्होंने कोई मवेशी नहीं चुराया है। फिर भी उग्र भीड़ उन्हें पीटती रही। इसके अलावा अररिया के सब-डिविजनल पुलिस अधिकारी केपी सिंह ने बताया की, काबुल मियां को सभी हमलावर जानते थे और सभी उसी समुदाय के थे। फ़िलहाल अज्ञात हमलावरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है। और मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है।

Loading...