भारत के इस गांव की अनोखी परंपरा, देवर के साथ भी बनाने पड़ते हैं भाभी को संबंध

अपने ये सुना भी नहीं होगा कि, एक महिला के पांच पति। अगर अपने ये सुना होगा तो सिर्फ महाभारत में कि द्रौपदी के पांच पति थे जो कि वरदान के कारण मज़बूरी में मिल गए थे। हुआ यूँ था कि द्रोपदी को एक वरदान मिला था जिसके कारण उन्हें 5 पतियों का सुख मिला। लेकिन इस चरित्र के बाद आपको कभी ऐसा सुनने को नहीं मिला होगा। लेकिन आज जो हम आपको बताने जा रहे हैं, उसे जानकर आपके होश उड़ जायेंगे। एक गांव ऐसा है जहां हर लड़की द्रौपदी है। यहां किसी के पांच पति हैं तो किसी के आठ पति है।

ये कहानी है राजस्थान और मध्यप्रदेश की सीमा से सटे एक गांव मुरैना की। बताया गया है कि, यहां हर घर में पत्नी के एक से अधिक पति है। और पत्नी पांडवो की तरह अपने एक-एक पति के साथ निश्चित समय के लिए अपना समय व्यतीत करती है।

बताया गया है कि यह यहाँ की परंपरा है जोकि ज्यादा पुरानी भी नही है। ऐसा यहां इसलिए होता है क्युकी इस गांव में लड़कियों की कमी है और लड़के ब्याहे ही नही जा रहे थे, ऐसे में गांव की पंचायत ने फैसला किया की जिस घर में एक से अधिक लड़के है सबकी शादी एक ही लड़की से होगी और सबका उस पर बराबर का हक़ होगा।

Check Also

शादी करके जिसे पति लाया घर, सुहागरात में वो निकला एक मर्द, सच्चाई जानकर चौंक गए सब

एक चौकाने वाली घटना सामने आई जिसमे सभी के होश उड़ गए। घटना इंडोनेशिया की …