दौड़ी खुशी की लहर, तैयार हुई कोरोना वायरस की दवा, बेंगलुरु के डॉक्टर राव ने किया दावा, भारत कोरोना की दवा बनाने वाला पहला देश

दुनियभर के कई मुल्क कोरोना वायरस की चपेट में आ गए है, लेकिन अभी तक कोई भी डॉक्टर या साइंस्टिक इसकी दवा नहीं बना सके। लेकिन भारत के एक डॉक्टर ने इसकी दवा बनाने का दावा किया है। जोकि बेंगलुरु रहने वाले हैं, उन्होंने दवा बनाने को लेकर सरकार से अनुमति भी मांगी है। फ़िलहाल कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए दुनिया के तमाम देश कोरोना की दवा पर रिसर्च कर रहे हैं। इस दौरान भारत के एक डॉक्टर ने कोरोना वायरस की दवा बनाने का दावा किया है। जिसको लेकर बेंगलुरु के इस डॉक्टर ने दवा बनाने के लिए सरकार से अनुमति भी मांगी है।

बेंगलुरु के ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. विशाल राव ने कोरोना के इलाज की दवा इजात करने का दावा किया है। दवा बनाने के बारे में जानकारी देने के साथ ही डॉक्टर राव ने कहा कि उनकी दवा अभी शुरूआती स्टेज में हैं दवा निर्माण को लेकर सरकार के पास आवेदन भी भेजा गया है। ऐसे में सरकार की अनुमति के बाद ही आगे का काम शुरू होगा और अगर ये प्रयोग सफल हुआ तो भारत कोरोना की दवा बनाने वाला पहला देश होगा।

डॉक्टर राव के अनुसार, कोरोना की दवा कुछ अन्य दवाओं को मिलाकर नई दवा के तौर पर तैयार हुई है। उन्होंने कहा कि साइटोकाइनिज की मदद से एक मिश्रण बनाया जा सकता है, जिसे मरीजों में इंजेक्ट किया जा सकता है। ये दवा मरीजों के इम्यून सिस्टम को फिर से जिंदा करेगी, हंलाकि अभी इसकी स्थिति शुरूआती स्टेज पर हैं।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …