AAP की चर्चित विधायक अलका लांबा ने दिया इस्तीफा, ये थी वजह

0
106
Loading...

नई दिल्ली: विधानसभा में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को दिए गए ‘भारत रत्न’ को वापस लेने के प्रस्ताव पारित होने के बाद विधायक अलका लांबा ने आप पार्टी से इस्तीफा दे दिया। खबर के अनुसार, आप पार्टी ने अलका लांबा की प्राथमिक सदस्‍यता भी रद्द कर दी है।

पीटीआई-भाषा से बात करते हुए अलका लांबा ने शुक्रवार को बताया की, ‘भारत रत्न’ वापस लिए जाने के प्रस्ताव को मै समर्थन नहीं करती हूं। इस प्रस्ताव को जब विधानसभा में पेश किया जा रहा था तो मै सदन से बाहर चली आयी थी। जब प्रस्ताव पास होने की जानकारी हुई तो मैंने अरंविद केजरीवाल से बात की। उन्होंने मुझे विधायक पद से इस्तीफा देने के लिए कह दिया। इसलिए मैं पार्टी प्रमुख के कहने पर इस्तीफा देने जा रही हूं।

वही अलका लांबा ने ट्वीट कर कहा की, “आज @DelhiAssembly में प्रस्ताव लाया गया की पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री राजीव गांधी जी को दिया गया भारत रत्न वापस लिया जाना चाहिये,मुझे मेरे भाषण में इसका समर्थन करने को कहा गया,जो मुझे मंजूर नही था,मैंने सदन से वॉक आउट किया।
अब इसकी जो सज़ा मिलेगी,मैं उसके लिये तैयार हूँ।” साथ ही अलका लांबा ने ये भी कहा की किसी को केवल एक कामो के लिये भारत रत्न नही दिया जाता है। देश के लिए अपनी कुर्बानी देने वाले को यह सम्मान दिया जाता है। जिसे भुलाया नहीं जा सकता है। इसलिए किसी एक कारण से भारत रत्न वापस लेने की बात का समर्थन करना सही नहीं है।

गौरतलब है की, शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा में सिख दंगा मामले का हवाला देते हुए आप के दो विधायकों ने राजीव गांधी से भारत रत्न सम्मान वापस लिए जाने की केंद्र सरकार से मांग करने वाला प्रस्ताव पेश किया था। जिसका अलका लांबा ने विरोध किया है। फिलहाल अभी आप पार्टी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है।

Loading...