वैक्सीनेशन में तेजी, अब तक 10 लाख से अधिक लोगों ने लगवाई कोरोना वैक्सीन

देश भर में कोविड​​-19 टीकाकरण अभियान के तहत अब तक लगभग 10.5 लाख लोगों को कोरोना वायरस-रोधी ठीके लगाए जा चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मंत्रालय ने कहा कि 24 घंटे की अवधि में देश में आयोजित 4049 चरणों में 237050 लोगों को टीके लगाये गये। अब तक कुल 18167 सत्र आयोजित किए जा चुके हैं। संक्रमण की जांच के मोर्चे पर भी भारत लगातार आगे बढ़ रहा है।

मंत्रालय ने कहा कि जांच संबंधी बुनियादी ढांचे के विस्तार ने वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई को और मजबूत किया है। देश भर में अब तक कुल जांच की संख्या 19 करोड़ से अधिक हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के कुल 800242 नमूनों की जांच की गई, जिससे भारत में अब तक हुई कुल जांच की संख्या बढ़कर 190148024 हो गई है।

मंत्रालय ने कहा, निरंतर आधार पर विस्तृत और व्यापक जांच के परिणामस्वरूप संक्रमण दर में कमी आई है। कुल संक्रमण दर वर्तमान में 5.59 प्रतिशत है। पिछले कुछ हफ्तों से देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी लगातार कम हो रही है। देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर अब कुल मामलों का 1.78 प्रतिशत रह गई है।

भारत में वर्तमान में 188688 मरीजों का इलाज चल रहा है। 24 घंटे के अंतराल में कुल 18002 लोग ठीक हुए। इससे कुल इलाजरत मरीजों की संख्या में एक दिन में 3620 की कमी आई है। देश में ठीक हुए कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 10283708 तक पहुंच गई है। मंत्रालय ने कहा कि ठीक होने वाले नए लोगों में से 84.70 प्रतिशत लोग दस राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के है। केरल में 6,229 लोग बीमारी से ठीक हुए। महाराष्ट्र और कर्नाटक ने क्रमशः 3,980 और 815 नए मरीज ठीक हुए। 

24 घंटे के अंतराल में संक्रमण के कुल 14,545 नए मामले सामने आए हैं। नए मामलों में 84.14 प्रतिशत मामले आठ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में आए हैं। केरल में 24 घंटे के अंतराल में 6334 नए मामले सामने आए। महाराष्ट्र में 2886 नए मामले सामने आए, जबकि कर्नाटक में 674 नए मामले सामने आए। पिछले 24 घंटों में हुईं 163 मौतों में से 82 प्रतिशत मौतें नौ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में हुई हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 52 मौतें हुई हैं। केरल में 21 मौतें हुई हैं।


Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।

Check Also

छत्तीसगढ़ की GSDP में 1.77 फीसदी की कमी होने का अनुमान

छत्तीसगढ़ में वित्तीय वर्ष 2020-21 की जीएसडीपी में 1.77 फीसदी की कमी होने का अनुमान …