एक निजी कंपनी से 20 करोड़ रुपये घूस लेने के आरोपी BJP के पूर्व मंत्री “लापता”, खोजने में जुटी क्राइम ब्रांच

0
68

बेंगलुरु: भाजपा के पूर्व मंत्री और खनन कारोबारी जी जनार्दन रेड्डी को बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने 20 करोड़ का घूस लेने के आरोप में तलाश कर रही है। उन पर एक एक निजी कंपनी एमबियंट प्राइवेट लिमिटेड की मदद के तौर पर 20 करोड़ रुपये घूस लेने का आरोप लगा है। CCB ने रेड्डी से संबंधित बेंगलुरु की एक प्रॉपर्टी में तलाशी अभियान चलाया जिसमे ये मामला सामने आया है। उच्च पुलिस अधिकारियो ने बताया की जनार्दन रेड्डी कही छिपे हुये है लेकिन उनकी तलाश जारी है। इसके अलावा जनार्दन रेड्डी पर गैर-कानूनी तरीके से लोहे के अयस्क के खनन का कारोबार चलाने का भी आरोप लगा है। CBI इस मामले में अलग से मुकदमा चला रही है।

बेंगुरु पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने जनसत्ता के अनुसार बुधवार को बताया कि, बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच (CCB) को जनार्दन रेड्डी के बारे में उस समय पता चला जब वह फिनेंसिअल सर्विसेज देने वाली एक निजी कंपनी एमबियंट प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ धोखाधड़ी के एक मामले की जांच कर रही थी। इस कंपनी पर 15 हजार लोगों को पॉन्जी योजना के तहत 600 करोड़ रुपये का घोटाले का आरोप है। इस कंपनी ने निवेशकों को 40 परसेंट तक रिटर्न देने का वादा किया था। लेकिन कंपनी द्वारा ऐसा नहीं करने पर बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने कंपनी के संस्थापक सैयद अहमद फरीद के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) की जांच से बचने के लिए पूर्व मंत्री से संपर्क किया था। वही इस मामले में पुलिस ने बताया की रेड्डी ने फरीद से मदद के बदले सोने के रूप में 20 करोड़ रुपये की मांग की थी।

बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच के अनुसार, रेड्डी ने 20 करोड़ का सोना फरीद से बेल्लारी के राजमहल फैन्सी ज्वेलर्स को देने के लिए कहा था। बाद में इस सोने को ज्वेलर्स ने रेड्डी को दे दिया था। आपको बतादे की इससे पहले CCB ज्वेलर्स रमेश को गिरफ्तार करके पूछताछ कर चुकी है। पुलिस ने रेड्डी के अलावा उनके नजदीकी अली खान की खोज बीन तेज़ कर दी है। अली खान पर आरोप लगा है की इन्होने ही 20 करोड़ रुपये की डील के लिए बात की थी।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

loading...