निर्भया को इंसाफ दिलाने वाली वकील सीमा कुशवाहा बानी सोशल मीडिया पर हीरो, इस तरह लोगो ने दिया धन्यवाद, लेकिन..

निर्भया रेप और मर्डर के चारों दोषियों को आज सात साल बाद फांसी हो गई है। जिसको लेकर ट्विटर पर #SeemaKushwaha टॉप ट्रेंड कर रही हैं। क्युकी सीमा कुशवाहा पिछले सात सालों से निर्भया के लिए अदालत में इंसाफ की लड़ाई लड़ रही थीं। सीमा ने निर्भया का केस मुफ्त लड़ने की घोषणा की थी। जिन्होंने निचली अदालत से लेकर ऊपरी अदालत तक निर्भया के दरिंदों को फांसी दिलाने के लिए लड़ाई लड़ी। आज फांसी के बाद निर्भया की मां ने सबसे पहले सीमा कुशवाहा को ही धन्यवाद कहा। निर्भया की मां ने कहा कि, हमारे वकील (सीमा कुशवाहा) के बिना यह संभव नहीं था।

टिप्पणियां
दोषियों को फांसी के बाद निर्भया के पिता बद्रीनाथ बोले, ‘लड़ाई लंबी रही है, संतुष्ट हूं. समाज से नहीं सिस्टम से शिक़ायत है. बहुत लंबी लड़ाई लड़ी है. लोगों से यही कहूंगा कि बेटे और बेटी के बीच भेद न करें. मेरी बेटी ज़िंदा नहीं है पर मैने उसे बेटा ही माना. रात भर सुनवाई चली लेकिन हमें कोर्ट पर यकीन था. मैं संतुष्ट हूं. पर चैन से सो नहीं पाऊंगा, अब भी मूझे मेरी बेटी की सिंगापुर की तस्वीर याद है. बस कल्पना ही कर सकता हूं कि फ़ांसी पर वो कैसे लटके होंगे. मैं सबका धन्यवाद करता हूं.’

आज निर्भया मामले के चारों दोषियों को तिहाड़ जेल में फांसी हो गई है, जिसके बाद डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित किया। जेल के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि चारों दोषियों के शव करीब आधे घंटे तक फंदे पर झूलते रहे, जेल के महानिदेशक संदीप गोयल ने कहा ‘‘डॉक्टर ने जांच की और चारों को मृत घोषित कर दिया .”

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …