3 मई के बाद अब और लॉकडाउन आगे बढ़ाने के मूड में नहीं सरकार, तैयार किए आगे के लिए ये प्लान्स

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश में लॉकडाउन का दूसरा फेज शुरू गया है, जोकि 3 मई तक जारी रहेगा। इस दौरान केंद्र सरकार ने कल लॉकडाउन की नई गाइडलाइन पेश की है। इसमें कुछ जरूरी चीजों में सशर्त छूट देने के निर्देश दिए, जिसमें अब राज्य सरकारों के ऊपर निर्भर करता है कि वह कैसे आगे कदम उठाएंगी। केंद्र दवारा साफ कर दिया गौ है कि, राज्य सरकारें अपने क्षेत्रों में किसी भी तरह से लॉकडाउन से जुड़ी गाइडलाइंस में ढील नहीं देंगी।

इन सबके बीच सरकारी सूत्रों की मानी जाये तो केंद्र सरकार 3 मई के बाद लॉकडाउन को आगे बढ़ाने के मूड में नहीं है। क्युकी सरकार दवररा लॉकडाउन खत्म होने के बाद का प्लान भी तैयार कर लिया गया है। 3 मई के बाद लॉकडाउन को धीरे-धीरे हटा दिया जाएगा और लेकिन इसके लिए कुछ शर्तों जरूर राखी जाएगी। रेड और ऑरेंज जोन वाले इलाकों को फिलहाल ये छूट नहीं मिलेगी।

1. ग्रीन जोन वाले इलाकों में सिर्फ शहर के भीतर ही आवागमन की मंजूरी मिलेगी।
2. सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लोगों की रोजमर्रा की लाइफस्टाइल का हिस्सा होगा। इसे लंबे वक्त तक अनिवार्य रखा जा सकता है।

3. घर से निकलने की छूट मिल सकती है, पर मास्क पहनना होगा और एक-दूसरे से दूरी का खयाल रखना होगा।
4. दफ्तरों में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए काम करने की इजाजत मिल सकती है।

5. 3 मई के बाद जनोपयोगी दुकानों को भी कुछ शर्तों के साथ राहत दी जा सकती है।
6. लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी मुंबई, दिल्ली, नोएडा, इंदौर जैसे इलाकों पर खास निगरानी रखी जाएगी। यहां लॉकडाउन के कुछ नियमों का फिलहाल पालन होगा।

आगे भी इन पर रह सकती है पाबंदी

1. 3 मई के बाद भी ट्रेन, प्लेन से आवागमन फिलहाल मुश्किल है। इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है।
2. किसी जगह भीड़ के इकट्ठा होने पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी।

3. शादी समारोह, धार्मिक स्थानों जैसी जगहों को लेकर फिलहाल राहत नहीं मिल सकती है। शादी में अधिकतम कितने मेहमान आ सकते हैं, इसके लिए आपको डीएम से लिखित अनुमति लेनी होगी। सूत्रों का कहना है कि 15 मई के बाद ही देश में कोरोना की स्थिति का बेहतर ढंग से आकलन करने के बाद आगे की रणनीति तय होगी।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …