केरल, पंजाब के बाद अब पश्चिम बंगाल में CAA के खिलाफ पास हुआ प्रस्ताव

CAA के खिलाफ पश्चिम बंगाल विधानसभा में प्रस्ताव पास हो चूका है। ऐसा करने वाला पश्चिम बंगाल चौथा देश बन गया है इससे पहले केरल, पंजाब और राजस्थान विधानसभा में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास हुआ था।

बतादे की पश्चिम बंगाल की विधानसभा में यह प्रस्ताव संसदीय मामलों के मंत्री पार्थ चटर्जी ने रखा। विधानसभा में प्रस्ताव रखते समय मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि ‘संशोधित नागरिकता कानून लोगों के खिलाफ है और यह कानून तुरंत निरस्त किया जाए’

इसके अलावा ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार को चुनौती दी कि वह सरकार को बर्खास्त करके दिखाएंगी। विधानसभा में ममता बनर्जी ने आगे कहा कि, “दिल्ली में हुई एनपीआर की बैठक में शामिल नहीं होने की भी ताकत बंगाल में है। अब समय आ गया है कि हम अपने मतभेद भुलाकर साथ आएं और देश को बचाने के लिए लड़ें।”

संशोधित नागरिकता कानून को लेकर सीएम ममता बनर्जी और उनकी सरकार खुलकर सामने आ गयी है पश्चिम बंगाल में भी CAA के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए। जिसको ममता बनर्जी की सरकार ने अपना समर्थन दिया था।

बतादे की संसोधित नागरिकता कानून के खिलाफ सबसे पहले केरल विधानसभा में प्रस्ताव पास हुआ था। इसके बाद पंजाब और राजस्थान विधानसभा विधानसभा में इस कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास किया था। वही ममता बनर्जी ने NPR की प्रक्रिया को जोखिम वाला खेल बताया।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …