शादी होने के बाद सिर्फ एक बार ससुराल गये वीरेंद्र सहवाग, हुआ कुछ ऐसा की ससुराल वालों ने बुला दी थी पुलिस

0
42571
Loading...

क्रिकेट से सन्यास लेने के बाद भी वीरेंद्र सहवाग अपनी मजाकिये ट्वीट से हमेशा सुर्खियों में बने रहते हैं। यही वजह रहती है की सहवाग जहाँ पहुँच जाये उनके फैन की भीड़ लग जाती है। ऐसे ही उनके फैन से जुड़ा एक मामला उनके ससुराल से जुड़ा है। जहाँ वीरेंद्र सहवाग को पुलिस बुलानी पड़ गयी थी।

एक टीवी इंटरव्यू में खुलासा करते हुए सहवाग ने बताया था की, “जब मैं पहली बार शादी के बाद अपने ससुराल गया था, तो मुझे वहां से निकलने का मौका ही नहीं मिला घर के नीचे करीब 10 हजार लोग एकत्रित हो गये थे, इसके बाद पुलिस को बुलाया गया और मैं वहां से निकल पाया।”

उन्होंने आगे बताया की “उसके बाद मैंने तय किया कि मैं फिर ससुराल नहीं जाऊंगा नहीं तो फिर निकलने की मुसीबत बन सकती है.” ऐसे ही जब एक कार्यक्रम के दौरान मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर से सवाल किया गया था की नॉन स्ट्राइकर पर खड़े होकर आप किसे खेलना सबसे ज्यादा पसंद करते है। तब सचिन ने बताया था की वीरू को स्ट्राइक पर खेलते देखना सबसे ज्यादा पसंद करता हूँ।

सचिन ने आगे बताया की वीरेन्द्र सहवाग का मैदान में खेलने का स्टाइल सबसे अलग था। क्यूंकि वीरेन्द्र सहवाग क्रिकेट खेलते समय गाना गुनगुनाते थे। ये बात बहुत ही कम लोग जानते उनके बारे में, “जब क्रीज पर रन नहीं बनते थे, तो मैं खड़ा हो होकर भजन गाना शुरू कर देता था, और जैसे ही रन बनाने लगते थे तो मैं फ़िल्मी गाना गाने लगता था.”

ऐसे ही एक अवार्ड शो के दौरान वीरेन्द्र सहवाग ने वाकिया सुनाते हुए बताया था की वो क्रिच पर 200 रन बना कर खेल रहे थे और गाना गुनगुनाते हुए चौके और छक्के जड़ रहे थे। उसी दौरान ड्रिंक्स ब्रेक हो गया। ब्रेक के बाद तीन चार ओवर्स तक रन नहीं बना रहे थे क्यूँकि उनका दीमाग गाने को याद करने में लगा था।

तब राहुल द्रविड ने पास आकर पूछा था की सब ठीक है ना, तो मैंने कहा हाँ लेकिन पूछा क्यों? तो द्रविड ने जवाब दिया की काफी समय से चौके, छक्के नहीं लगे है। फिर सहवाग ने एक खिलाड़ी को बुलाकर अपने आईपॉड से गाना ‘चला जाता हूं किसी की धुन में धड़कते दिल के, तराने लिए’ के लिरिक्स पूछा। तब गाना गुनगुनाते हुए 319 रन बना दिए थे।

Loading...