भारत के Air Strike के बाद पाक ने न्यूक्लियर वेपन की देखभाल करने वाली समिति की बैठक बुलाई

भारतीय वायुसेना द्वारा एलओसी पार जाकर जैश के आतंकी कैंप तबाह करने के कुछ ही घंटे बाद पाक सेना के मीडिया विंग के चीफ मेजर जनरल आसिफ गफूर ने नेशनल कमांड अथॉरिटी (एनसीए) की बैठक बुलाई। बतादे की नेशनल कमांड अथॉरिटी (एनसीए) वो संस्था है जो पाकिस्तान के परमाणु हथियारों की देख-रेख करता है।

पाकिस्तान सेना के मीडिया विंग के चीफ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “मैंने कहा कि हम तुम्हे सरप्राइज करेंगे. सरप्राइज के लिए इंतजार कीजिए. मैंने कहा कि हमारा प्रतिक्रिया अलग होगी. प्रतिक्रिया अलग तरह से होगी.”

आसिफ गफूर ने आगे कहा, “कल संसद का संयुक्त सत्र है और उसके बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल कमांड अथॉरिटी (एनसीए) की बैठक बुलाई है। मुझे उम्मीद है कि आपको नेशनल कमांड अथॉरिटी का मतलब और इसके गठन के बारे में जानकारी होगी।”

नेशनल कमांड अथॉरिटी को साल 2000 में मौजूदा सरकार के तख्तापलट के बाद पाक के राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद तथा तत्कालीन मुख्य कार्यकारी जनरल परवेज मुशर्रफ से अनुमोदन के बाद बनाया गया था।

बतादे की, नेशनल कमांड अथॉरिटी (NCA) न्यूक्लियर हथियारों पर फैसला लेने वाली पाकिस्तान की प्रमुख संस्था है। जब भी दोनों देशो के बीच तनाव बढ़ा है तो पाकिस्तान ने परमाणु हमले की धमकी दी है।

पाकिस्तानी न्यूज़ वेबसाइट डॉन के मुताबिक, “नेशनल कमांड अथॉरिटी नीति निर्माण के लिए उत्तरदायी होगा तथा सभी स्ट्रेटिजिक परमाणु बल और स्ट्रेटिजक ऑर्गनाइजेशन के साथ रोजगार और विकास की चर्चा करेगा।” साथ ही इसमें रोजगार नियंत्रण समिति, विकास नियंत्रण समिति के अलावा सामरिक योजना प्रभाग भी सम्मलित होगा। जो सचिवालय के रूप में काम करेगा।

भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में घुसकर हमले में बड़ी संख्या में आतंकवादियों को मारने की भारतीय मीडिया के दावों को प्रेस कॉन्फ्रेंस में गफूर ने खारिज कर दिया और कहा, पाकिस्तानी अथॉरिटी को भारतीय वायुसेना की मौजूदगी के बारे में पता था। और हम पूरी तरह तैयार थे।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …