निर्भया के दोषियों से पूछी गई अंतिम इच्छा, अक्षय और विनय ने जो मंगा उससे प्रशासन के उड़े होश

एक फरवरी 2020 को निर्भया के चारों दोषियों को फांसी पर लटकाया जाएगा। अक्षय, विनय, मुकेश और पवन को 22 जनवरी को फांसी होनी थी। लेकिन कुछ मामले लंबित होने के चलते नया डेथ वारंट जारी किया गया है। फ़िलहाल दिल्ली तिहाड़ जेल में फांसी की प्रक्रियाएं तेज़ी से चल रही है। सूत्रों दवारा पता चला है कि अक्षय, विनय, मुकेश और पवन से उनकी आखिरी इच्छा पूछी गई है। तिहाड़ जेल प्रशासन ने चारों गुनहगारों को नोटिस देकर उनकी आखिरी इच्छा पूछी है। प्रशासन दवारा पूछा गया है कि एक फरवरी को होने वाली फांसी से पहले वह आखिरी बार किससे मिलना चाहते हैं?

साथ उनसे पूछा गया कि अगर उनके नाम कोई प्रॉपर्टी है तो फांसी से पहले वो उसे किसके नाम करना चाहते हैं? या फिर उन्हें किसी धार्मिक किताब को पढ़ना हो या फिर किसी धर्मगुरु से मिलना चाहते हैं। जेल प्रशासन दवारा उनकी मदद की जाएगी, हालांकि आरोपियों ने आखरी इच्छा किया बताई यह अभी पता नहीं चल पाया है। फांसी की सजा को लेकर चारों बेचैन हैं, मौत के डर विनय खाना नहीं खा रहा। लेकिन दो दिन तक खाना नहीं खाने के बाद जब उसे बुधवार को बार-बार खाना दिया गया तो उसने थोड़ा सा खाना खाया।

फांसी की तारीख नजदीक आने पर भी मुकेश और अक्षय पर कोई असर नहीं दिखा। ऐसा इसलिए बताया जा रहा क्युकी मुकेश और अक्षय ने न तो खाना छोड़ा है न खाना कम किया है। लेकिन पवन की खुराक कम जरूर हो गई है। इन चारों में मुकेश ही ऐसा है जो अपने सभी कानूनी विकल्प इस्तेमाल कर चुका है और उसकी दया याचिका भी खारिज हो चुकी है। वहीं विनय के पास दया याचिका का रास्ता बचा है तो अक्षय और पवन ने तो अब तक क्यूरेटिव पिटीशन भी नहीं डाली है।

Check Also

अनलॉक 2: क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद, यहाँ जाने खुलकर

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने अनलॉक-2 के लिए नई गाइडलाइन्स जारी कर दी है। जिसमे …