‘कृषि अधिकारी के साथ मिलकर दारोगा ने वर्दी का रौब दिखाकर चौकीदार से लगवाया था उठक-बैठक, अब हुआ सस्पेंड’

बिहार में एक सिपाही को लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी पर जिला कृषि पदाधिकारी से यह पूछना गलती हो गयी कि उसे गाली क्यों दे रहे है। कृषि पदाधिकारी अपने पद का रौब दिखाते हुए चौकीदार से कान पकड़कर उठक-बैठक भी कराई गई और पैर छूकर उसे माफी भी मांगनी पड़ी।

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यह मामला डीजीपी तक जा पहुँचा। डीएम और एसपी से बात करने के बाद जांच की जिम्मेदारी डीडीसी और एसडीपीओ को सौपी गयी थी। जांच में यह बात सामने निकलकर आयी की उस समय एएसआइ गोविंद सिंह भी मौके पर मौजूद थे। एएसआइ गोविंद सिंह को निलंबित कर दिया गया हैं।

कृषि पदाधिकारी के खिलाफ कृषि विभाग ने विभागीय कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। उधर अलग से इस मामले की जाँच जिला अधिकारी कर रहे हैं। जांच की रिपोर्ट आ जाने के बाद उसके आधार पर उन पर भी कोई कारवाई होने की उम्मीद हैं।

दरअसल हुआ यूं कि, गोनू तात्मा नाम के इस सिपाही की तैनाती अररिया के बैरगाछी में है। कृषि विभाग के अन्य अधिकारियों के साथ जिला कृषि पदाधिकारी भी वहां मौजूद हैं। कहा जा रहा है कि इस सिपाही ने अधिकारी से ‘पास मांगा’ और न देने पर 500 रुपये फाइन करने की बात कही थी। इसके बाद ड्यूटी में तैनात वरीय पुलिस अधिकारी पहुंचे और कृषि पदाधिकारी ने उनसे उठक-बैठक करवाई थी।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …