लॉक डाउन के बीच यूपी पुलिस विकलांग व बेसहारा गरीब लोगो के लिए कर रही नेक काम

PM और CM के 21 दिनों के लॉक डाउन व जनता कर्फ्यू के दौरान रोज मर्रा वाले गरीब व रिक्शा चलाने वाले व मजदूरी करके अपना पेट भरने वाले व विकलांग व अपाहिज लोग भीख मांग कर पेट भरने वालों के लिए इंस्पेक्टर नाका सुजित कुमार दुबे बने उन गरीबों का सहारा।

इंस्पेक्टर नाका सुजित कुमार दुबे ने 200 गरीबों का सुबहा साम के खाने का उठाया जिम्मा ।

200 गरीबों को रोज सुबहा साम खिलाएंगे खाना व लॉक डाउन तक जनता कर्फ्यू के आदेश तक बनेंगे उनका सहारा।

इंस्पेक्टर नाका सुजित कुमार दुबे के इस कार्य की गरीबों ने किया सरहाना और इस कार्य से गरीबों को मिलेगी राहत ।

साथ ही में इंस्पेक्टर नाका सुजीत कुमार दुबे ने क्षेत्र में किया जनता को माइक से जागरूक और कहा कि आप लोग कृपया अपने घरों से बाहर मत निकले और बहुत ज्यादा आवश्यक काम हो तोभी अपने घर की आस पास की दुकानों से हीले और कंही भी भीड़भाड़ मत लगा के मत खड़े हों। (सदफ हसन की रिपोर्ट)

Check Also

महामारी में राशन, दवा और दूसरी तरह की सहायता का मानक केवल गरीबी नहीं है- पीपुल्स एलायंस’

आजमगढ़ 1 अप्रैल 2020। कई तरह की दिक्कतों के चलते बहुत से लोग अपना पैसा …