एक 8 वर्षीय बच्ची ने मोदी से सम्मान लेने से किया इनकार, जानिए वजह

एक 8 वर्षीय पर्यावरण कार्यकर्ता लिसिप्रिया कंगुजम ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सम्मान लेने से इनकार कर दिया है।
उन्होंने ट्विटर के जरिए पीएम मोदी से यह बात कही है। पीएम नरेंद्र मोदी ने महिला दिवस के मौके पर अपना ट्विटर अकाउंट महिलाओं को समर्पित किया है। इसी दौरान महिलाओं के सम्मान के लिए चलाए गए हैशटैग के साथ शुक्रवार को लिसिप्रिया कंगुजम की कहानी को पोस्ट किया गया। जिसमें उन्हें प्रेरणाश्रोत बताया गया है। साथ ही यह भी कहा गया है कि अगर आपके पास भी किसी ऐसी महिला की कहानी हो तो आप पीएम नरेंद्र मोदी के ट्विटर हैंडल पर पोस्ट कर सकते हैं।

भारत सरकार के ट्विटर हैंडल से पोस्ट किया गया कि, लिसिप्रिया कंगुजम मणिपुर से एक पर्यावरण कार्यकर्ता हैं। 2019 में उन्हें डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम चिल्ड्रेन अवार्ड, एक विश्व चिल्ड्रेन शांति अवार्ड और एक भारतीय शांति पुरष्कार से सम्मानित किया गया। साथ ही ट्वीट में ये भी बताया गया था कि क्या आप इनके जैसी किसी और को जानते हो? हमें बताएं।

इस ट्वीट के बाद लिसिप्रिया कंगुजम ने सम्मान लेने से साफ मना कर दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सर, कृपया आप मेरा सम्मान न करें। जब आप मेरी बात सुन ही नहीं रहे हैं। प्रेरणादायक महिलाओं की लिस्ट में मुझे रखने के लिए शुक्रिया। लेकिन बहुत सोचने के बाद मैंने निर्णय लिया है। लिसिप्रिया कंगुजम कार्बन उत्सर्जन और ग्रीन हाउस गैसों को कम करने वाले कानून की मांग कर रही थी। साथ ही उनकी मांग थी कि जलवायु परिवर्तन को स्कूलों में अनिवार्य पाठ्यक्रम में शामिल किया जाए। इन मांगों के पूरा न होने के कारण वो पीएम से नाराज हैं।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …