Anil Vij expressed concern over farmers protest at Haryana borders amid surge of Covid-19 cases said – I will write to Union Agriculture minister – अनिल विज को हुई हरियाणा में किसानों को कोरोना से बचाने की चिंता, बोले

0


देशभर के साथ ही हरियाणा में भी एक बार फिर तेजी से बढ़ते कोरोना (COVID-19) के मामलों के बीच यहां चल रहे किसान आंदोलनों को लेकर राज्य के गृह मंत्री अनिल विज गंभीर चिंता जताई है।

विज ने शुक्रवार को कहा कि आज जब एक बार फिर कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है ऐसे में हरियाणा की सीमाओं पर किसानों का इतना बड़ा जमावड़ा लगा हुआ है। मुझे आज जनता के साथ ही किसानों भी कोरोना संक्रमण से बचाना है।

उन्होंने कहा कि इस स्थिति से निपटने के लिए मैं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को पत्र लिखने वाला हूं, जिससे कि किसानों के साथ बातचीत का सिलसिला दोबारा शुरू किया जा सके।

ये भी पढ़ें : 10 अप्रैल को 24 घंटे के लिए केएमपी एक्सप्रेस-वे जाम करेंगे किसान

गौरतलब है कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ बीते साल 26 नवंबर से हजारों की तादाद में किसान दिल्ली और हरियाणा की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। कृषि कानूनों को रद्द कराने पर अड़े किसान इस मुद्दे पर सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर चुके हैं। किसानों ने सरकार से जल्द उनकी मांगें मानने की अपील की है। वहीं सरकार की तरफ से यह साफ कर दिया गया है कि कानून वापस नहीं होगा, लेकिन संशोधन संभव है।

बता दें कि किसान हाल ही बनाए गए तीन नए कृषि कानूनों – द प्रोड्यूसर्स ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन) एक्ट, 2020, द फार्मर्स ( एम्पावरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑन प्राइस एश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेज एक्ट, 2020 और द एसेंशियल कमोडिटीज (एमेंडमेंट) एक्ट, 2020 का विरोध कर रहे हैं। केन्द्र सरकार सितंबर में पारित किए तीन नए कृषि कानूनों को कृषि क्षेत्र में बड़े सुधार के तौर पर पेश कर रही है, वहीं प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आशंका जताई है कि नए कानूनों से एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) और मंडी व्यवस्था खत्म हो जाएगी और वे बड़े कॉरपोरेट पर निर्भर हो जाएंगे। 

हरियाणा में 2,872 नए कोविड मामले

हरियाणा में गुरुवार को बीते चार महीनों में पहली बार कोरोना के सबसे अधिक 2,872 नए मामले दर्ज किए गए। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी बुलेटिन के अनुसार, 11 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 3,230 हो गया है। अब यहां पर 17,129 एक्टिव केस हैं, जबकि रिकवरी रेट 93.38 प्रतिशत था।

बुलेटिन में कहा गया है कि जहां यमुनानगर में तीन कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई। वहीं, अंबाला में दो लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी, जबकि हिसार, कुरुक्षेत्र, झज्जर, फतेहाबाद, कैथल और जींद जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई।

राज्य में 2,872 नए मरीजों के साथ कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 3.08 लाख तक पहुंच गया। इससे पहले हरियाणा में बीते साल 20 नवंबर एक दिन में सर्वाधिक 3,104 मामले सामने आए थे। गुरुवार को मिले नए मामलों में गुरुग्राम में 741, फरीदाबाद में 378, करनाल में 284, पंचकूला में 239, अंबाला में 199 और कुरुक्षेत्र में 186 मरीज शामिल रहे। 





Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।