पंजाब में ताबड़तोड़ पुलिस पर हो रहे हमले, इस बार फरीदकोट में पुलिस पर चलाई गोली!

कोरोना वायरस की वजह से पुरे देश को लॉकडाउन किया गया है। वही पंजाब के लोगो से सख्ती से पालन करा रही पुलिस फिर हमला हुआ है। इस बार यह हमला मंडी में नहीं बल्कि पंजाब के फरीदकोट में हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस पर पंजाब के फरीदकोट में यह हमला रविवार की रात किया गया। लॉकडाउन का उल्लंघन कर सड़क पर घूम रहे दो मोटरसाइकिल सवार को जब पुलिस ने रोका तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग कर दी।

फायरिंग में पुलिसकर्मी तो बच गया लेकिन वहाँ खड़े एक दूसरे व्यक्ति को गोली लग गई। जो गोली लगते ही तुरंत गिर पड़ा। जिसके बाद इलाज के लिए व्यक्ति कोअस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने बाइक सवार एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है जबकि पुलिस पूरे मामले की जांच की जा रही है।

इससे पहले पटियाला की सब्जी मंडी में करीब 5 निहंग सिख गाड़ी से गए। वहां जाकर इन लोगों से जब कर्फ्यू पास के बारे में पूछा गया तो लोगो ने पुलिस पर हमला कर दिया। हमले में एएसआई हरजीत सिंह का हाथ कट दिया था।

मामले पर पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि, हमले में एएसआई हरजीत सिंह का हाथ कट गया। जिसके बाद उन्हें चंडीगढ़ पीजीआई में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि हमले में कई अन्य पुलिसकर्मी और मंडी बोर्ड के अधिकारी घायल हुए हैं। फ़िलहाल घटना में पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से पेट्रोल बम समेत अन्य हथियार और लाखों रुपए भी बरामद हुए थे।

पटियाला के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया, मंडी में मौजूद लोगो से (कर्फ्यू) पास दिखाने को कहा गया था, लेकिन उन्होंने अपनी गाड़ी से दरवाजे और वहां लगाए गए अवरोधकों पर टक्कर मार दी।’ उन्होंने बताया कि इसके बाद इन लोगों ने ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया।

सिद्धू ने बताया, ‘तलवार से एक सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) का हाथ काट डाला गया। पटियाला सदर थाने के प्रभारी की कोहनी में चोट आई है जबकि एक अन्य पुलिस अधिकारी की बांह में भी इस हमले में चोट आई है।’ एएसआई को राजेंद्र अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे पीजीआईएमईआर चंडीगढ़ के लिए रेफर कर दिया गया था।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …