कोरोना की दवा लाकर बुरे फसे बाबा रामदेव, जयपुर में दर्ज हुई FIR, भ्रामक प्रचार का लगा आरोप

पतंजलि आयुर्वेद के बाबा रामदेव ने हरिद्वार में मंगलवार 23 जून को ‘कोरोनिल’ दवा को लांच किया था। लेकिन बाबा रामदेव अब फसते नज़र आ रहे है। राजस्थान की राजधानी जयपुर में कोरोनिल दवा को लेकर अब बाबा रामदेव और 4 अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है। यह एफआईआर कोरोना वायरस की दवा को लेकर पतंजलि आयुर्वेद द्वारा बनायीं गयी कोरोनिल दवा के भ्रामक प्रचार को लेकर कराई गयी है।

बतादे की शुक्रवार को जयपुर के ज्योतिनगर थाने में कोरोनिल दवा के भ्रामक प्रचार करने के आरोप में 5 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गयी है जिसमे योग गुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण शामिल है। वही एफआईआर में निम्स के अध्यक्ष डॉ. बलबीर सिंह तोमर, वैज्ञानिक अनुराग वार्ष्णेय और निदेशक डॉ. अनुराग तोमर को आरोपी बनाया गया है।

गौरतलब है की कोरोना संकट के बीच पतंजलि आयुर्वेद के आचार्य बालकृष्ण ने दावा किया था की उनकी दवा से कोरोना को हराया जा सकता है। बालकृष्ण ने बताया की उनकी दवा से कोरोना पॉजिटिव मरीज 5 से 14 दिन में ठीक हुए है।

आचार्य बालकृष्ण ने आगे जानकारी देते हुए कहा था की, हमारे कंपनी के वैज्ञानिकों की एक टीम ने एक ऐसे कंपाउड को ढूढ़ा है जो कोरोना वायरस से मुकाबला कर सकते है। हम अगले 4 से 5 दिन में सबूत और डेटा साझा करेंगे।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …