महिला ने आत्महत्या करने से पहले सुसाइड नोट में लिखा- वाह मोदी जी क्या ‘अच्छे दिन’ आए हैं

0
25642
photo credit: UPUKlive
Loading...

उत्तर प्रदेश के आगरा के ताजगंज क्षेत्र के एक गांव में एक महिला ने शनिवार की रात को फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने से पहले महिला ने एक चार पन्नों का सुसाइड नोट लिखा। जिसमे मोदी के ‘अच्छे दिनों’ का जिक्र किया गया है। वही महिला ने सुसाइड नोट में अपनी मौत का जिम्मेदार यूपीयूकेलाइव के अनुसार, अपने मम्मी-पापा, भाई, बहन, देवर और देवरानी को ठहराया है।

सुसाइड नोट में महिला ने भाई द्वारा मोबाइल लेने के लिए पति के नाम पर लिए लोन को भरने से इंकार करने पर डिप्रेशन में आकर आत्महत्या करना बताया है। लेकिन सुसाइड नोट में हैरान करने वाली बात ये है की इस नोट में प्रधानमंत्री के अच्छे दिनों का जिक्र किया गया है। जो प्रधानमंत्री ने जनता से वादा किया था।

महिला ने सुसाइड नोट में लिखा की मोदी जी क्या यही अच्छे दिन आए हैं। लोन लेने के लिए हम जैसे लोगों काफी परेशानी होती है। आपके द्वारा खोले गए ट्रेनिंग सेंटर पर मैंने भी खंदौली से 800 रुपये देकर ट्रेनिंग ली थी। जिसमे कहा गया था की कोर्स करने के बाद सर्टिफिकेट दिया जायेगा। जिस पर लोन मिलेगा। लेकिन उससे कुछ भी नहीं हुआ। हम जैसे लोगों को कोई लोन नहीं देता। अब जाकर किसी तरह लोन मिला तो दुकान खोली लेकिन अपने ही बर्बाद करने के लिए चले आये।

ताजगंज के गांव धांधूपुरा निवासी महिला शशि को उसके परिवार वाले किचेन में मृत पाया। वही सूचना पाकर पहुंची पुलिस को घर में चार पन्नों का सुसाइड नोट मिला जिससे ये सारि बाते खुलकर सामने आई।

वही थाना प्रभारी ने कहा की, महिला शशि ने अपने सुसाइड नोट में अपने मम्मी-पापा, भाई, बहन, देवर और देवरानी को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है। आत्महत्या के लिए उत्तेजित करना करने की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले में जांच के बाद कार्रवाई होगी।

Loading...