भीमा कोरेगांव हिंसा मामला- आरोपी वरवर राव को महाराष्ट्र पुलिस ने हैदराबाद से किया गिरफ्तार

0
69

महाराष्ट्र: भीमा कोरेगांव हिंसा मामले के आरोपी रहे वरवर राव को महाराष्ट्र पुलिस ने शनिवार को हैदराबाद स्थित घर से गिरफ्तार कर लिया। हैदराबाद हाई कोर्ट ने वरवर को घर में नज़रबंद रखा था जिसका समय कल ख़त्म हो गया। जिसके बाद पुलिस ने घर से गिरफ्तार कर लिया। आपको बतादे की वरवर पर तौर पर माओवादियों से कथित संबंध होने के भी आरोप लग चुके है। साथ ही अदालत ने राव की जमानत याचिका को भी ख़ारिज कर दिया है।

जनसत्ता के अनुसार, पुणे के जॉइंट पुलिस कमिश्नर ने कहा की, हैदराबाद हाईकोर्ट ने वरवर राव की घर में नज़रबंद रहने की अवधि बढ़ाई थी जो आज ख़त्म हो गए जिसके बाद राव को गिरफ्तार कर लिया गया और राव को पुणे अदालत के सामने पेश किया जाएगा।

आपको बतादे की वरवरा राव को माओवादियों से संबंध होने की वजह से पुणे पुलिस ने अरेस्ट किया था। राव के अलावा पुलिस ने और 4 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था। जिसमे वर्नोन गॉनसैल्विस, सुधा भारद्वाज, अरुण फेरेरा और गौतम नवलखा शामिल है। इन सभी को 28 अगस्त को भीमा कोरेगांव हिंसा के मामले में गिरफ्तार किया गया था। इसके साथ ही पुणे सेशंस अदालत ने नवम्बर में आरोपी अरुण फेरेरा, सुधा भारद्वाज और वर्नोन गॉनजैल्विस को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। वही कोर्ट द्वारा जमानत याचिका खारिज होने पर तीनों को नजरबंद रखा गया था।

गौरतलब है की 2018 जनवरी में भीमा कोरेगांव जातीय हिंसा भड़क उठी थी जिसमे एक की मौत हो गई थी। जिसके बाद महाराष्ट्र के कई जिलों में हिंसा भड़क उठी थी। पुणे पुलिस ने इस मामले में प्रोफेसर शोमा सेन, महेश राऊत, सुधीर धावले, सामाजिक सुरेंद्र गडलिंग, और रोना विल्सन को माओवादियों से संबंध व हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

loading...