‘BJP सुब्रमण्यम स्वामी का बड़ा आरोप- क्या अंकित शर्मा ताहिर हुसैन के आतंकी कनेक्शन की कर रहे थे जांच, इसलिए की गयी हत्या’

दिल्ली हिंसा के दौरान केंद्र सरकार के इंटेलिजेंस ब्यूरो कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या को लेकर बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने ट्वीट कर मोदी सरकार से पूछा है कि सरकार को साफ करने की जरूरत है कि कहीं इंटेलिजेंस ब्यूरो अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या ताहिर हुसैन के इशारों पर तो नहीं की गई।

उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान अंकित शर्मा को बेरहमी से मारकर नाले में फेंक दिया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार अंकित शर्मा के शरीर पर चाकुओं के कई निशान पाए गए थे। डॉक्टरों का कहना था कि अंकित के शरीर के हर हिस्से पर चाकू से वार किए गए थे। यहां तक कि अंकित के पेट को चीर कर आंतों तक को बाहर निकाल दिया गया था।

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा है की, सरकार को यह स्पष्ट करने की आवश्यकता है कि क्या ताहिर के इशारे पर आईबी अधिकारी शर्मा को निशाना बनाया गया और मार दिया गया क्योंकि शर्मा उसे ताहिर के बांग्लादेश आतंकवादियों के कनेक्शन के तार ढूंढ रहे थे। अगर सच है तो यह बहुत गंभीर मामला है।

वही अंकित का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने बताया कि अभी तक उन्होंने किसी के शरीर में इतने चाकू के निशान नहीं देखे थे। खबरों के मुताबिक, अंकित शर्मा हिंसा वाले दिन घर से बाहर निकल कर उपद्रवियों को शांत करा रहे थे। लेकिन हिंसक भीड़ ने उनकी हत्या कर नाले में फेंक दिया था।

अंकित शर्मा की हत्या का आरोप निगम पार्षद ताहिर हुसैन पर लगा था जिसके बाद आम आदमी पार्टी ने उन्हें अपनी पार्टी से सस्पेंड कर दिया था। पुलिस ने गुरुवार को ताहिर हुसैन के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था।

आम आदमी पार्टी ने कहा कि जब तक हिंसा में ताहिर हुसैन की भूमिका की जांच पूरी नहीं होती तब तक वह पार्टी से सस्पेंड रहेंगे। वही अपने ऊपर लगे आरोपों पर ताहिर ने कहा था कि अंकित के परिवार के प्रति संवेदना है वह काफी दुखी हैं दंगाई उनके घर का गेट खुद तोड़कर घुस गए थे और वह 24 तारीख को खुद भाग रहे थे।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …