असम में बीजेपी जिलाध्यक्ष को भीड़ ने दौड़ाकर पीटा, प्रदर्शनकारियों ने तोड़े दांत- देखे वीडियो

0
131
Loading...

असम: असम के तिनसुकिया जिले में बुधवार को बीजेपी के जिलाध्यक्ष उस समय प्रदर्शनकारियों की हिंसा के शिकार हो गए। जब वह नागरिकता संशोधन बिल पर लोक जागरण मंच की तरफ से आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए निकले थे। बीजेपी जिलाध्यक्ष लखेश्वर मोरन से प्रदर्शनकारियों ने उस समय मारपीट की जब वह आरएसएस के सहयोगी संगठन लोक जागरण मंच की तरफ से आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सभागार के बाहर पहुंचे।

इस पुरे घटना का वीडियो सामने आ चूका है। वीडियो में प्रदर्शनकारी बीजेपी जिलाध्यक्ष को हाथ से पीटने के अलावा उनके ऊपर कार का टायर तक फेक देते है। साथ ही वह हाथ में काले झंडे के साथ जिलाध्यक्ष पर ‘आरएसएस से सांठगांठ’ भी चिल्लाते नज़र आये।

वही इस घटना पर तिनसुकिया जिले के एसपी शिलादित्य चेतिया ने बताया, ‘हमने भारतीय जनता युवा मोर्चा की शिकायत पर केस दर्ज किया है। इस मामले में तीन एफआईआर दर्ज हुयी हैं और तीन गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। इनमें से एक राणा गोहन है, जो कि ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU) का सदस्य है। यह वही व्यक्ति है जिसने लखेश्वर मोरन पर टायर फेंका। हम यह पता करने की कोशिश कर रहे हैं कि उसे संगठन में क्या पद मिला हुआ है। लखेश्वर मोरन का दांत टूट गया है और अन्य जगह चोटें भी लगी हैं।’ इसके अलावा एसपी शिलादित्य का ये भी कहना है की इस घटना के बाद से जिले में तनाव का माहौल बना हुवा है।

मोरन के साथ हुई इस घटना पर बीजेपी के स्टेट प्रेसिडेंट रंजीत कुमार दास ने इस घटित घटना की निंदा करते हुए कहा की बीजेपी के 29 लाख कार्यकर्ताओं ने ज्यादा ‘संयम’ रखा है। साथ ही इस घटना को ‘गुंडागिरी’ करार दिया। और साथ ही सभी पार्टियों से अपील करते हुए कहा की बीजेपी कार्यकर्ताओं को और ‘भड़काया’ न जाए। साथ प्रदेश सरकार से माँग की कि इस घटना के जुड़े लोगो को तुरंत पकड़ा जाए। वहीं, इस घटना पर AASU के जनरल सेक्रेटरी लुरिनज्योति गोगोई का कहना है की ‘हम हिंसा की ऐसी किसी घटना से जुड़े नहीं हैं।’

Loading...