जामिया गोली कांड के लिए उकसाने और षड्यंत्र का मुकदमा दर्ज करते हुए भाजपा नेता अनुराग ठाकुर को तत्काल गिरफ्तार किया जाए- रिहाई मंच

0

लखनऊ, 30 जनवरी 2020। रिहाई मंच ने आरोप लगाया है कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों पर गोली चलाने की घटना भाजपा नेताओं द्वारा दिल्ली चुनाव प्रचार में लगातार साम्प्रदायिक घृणा फैलाने और हिंसा के लिए उकसाने का नतीजा है।

रिहाई मंच अध्यक्ष मुहम्मद शुऐब ने कहा कि महात्मा गांधी की शहादत दिवस पर शान्तिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाने की घटना के पीछे वही ताकतें हैं जो बापू की हत्या में शामिल थीं। यह मात्र संयोग नहीं बल्कि सोची समझी साज़िश है। उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव प्रचार के दौरान जिस तरह से भाजपा नेता और मंत्री अनुराग ठाकुर ने गोली मारने वाले नारे लगवाए थे

उससे यह संदेह पुख्ता हो जाता है कि गोलीकांड सुनियोजित था। उन्होंने कहा कि गोली चलाने वाले गोपाल पर हत्या और अनुराग ठाकुर व अन्य के खिलाफ हिंसा के लिए उकसाने और हत्या की साज़िश रचने का मुकदमा दर्ज किया जाए। अनुराग ठाकुर को तत्काल गिरफ्तार करते हुए साज़िश के कोण से जांच की जाए। अमित शाह ने पिछले दिनों शाहीन बाग और जामिया को निशाना बनाया था जिसका नतीजा आज सामने है।

रिहाई मंच महाचिव राजीव यादव ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह, परवेश वर्मा, गिरिराज सिंह आदि नेताओं ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शनों को लगातार निशाना बनाते रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ भी कभी बदला लेने, ठोक देने तो कभी विरोध प्रदर्शनों में लगने वाले नारों के खिलाफ भड़काऊ बयानबाज़ी और महिलाओं के खिलाफ अपमानजनक भाषा का प्रयोग करते रहें हैं। यही कारण था कि विरोध प्रदर्शन करने वालों का सबसे अधिक दमन उत्तर प्रदेश में हुआ।

यूपी के जनपद बलिया में महात्मा गांधी की शहादत दिवस पर श्रद्धांजलि अर्पित करने वाले इमरान अहमद और अन्य नेताओं को ही पुलिस ने शान्ति भंग का नोटिस पकड़ा दिया। वहीं दिल्ली में सीपीआई नेता डी राजा, वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव और अन्य को गिरफ्तार कर लिया जाता है।

इस बीच देश के विभिन्न भागों में गांधी जी के शहादत दिवस के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। लखनऊ घंटाघर धरने पर मोमबत्तियां जला कर बापू को याद किया गया। लखनऊ में ही उजरियांव धरने पर प्रदर्शनकारी महिलाओं ने मोमबत्तियां जलाकर बापू को श्रद्धांजलि दी। उत्तर प्रदेश के ही जनपद सिद्धार्थनगर में बड़ी संख्या में लोगों ने मोमबत्तियां जला कर बापू को याद किया।