मुख्य चुनाव आयुक्त ने बैलेट पेपर से चुनाव की मांग को बताया – अफवाह

0
34

मुख्य चुनाव आयुक्त ओ पी रावत ने विपक्ष की ओर से EVM के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग को खारिज करते हुए कहा की ये मामला हवा- हवाई है। उन्होंने बताया की उनसे कोई भी राजनितिक पार्टी आकर इस मामले पर नहीं मिली है और न ही उनका कोई प्रतिनिधिमंडल आया है,जिसने EVM के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग की हो।

श्री रावत ने बताया कि EVM के बजाय बैलेट पेपर से चुनाव को लेकर सभी राजनितिक पार्टियों के साथ बैठक हुई है, लेकिन उनसे 17 विपक्षी पार्टियों ने EVM को लेकर विरोध जैसी कोई बात अभी तक नहीं कही है। यदि विपक्षी पार्टियाँ अपनी बात रखती है तो उनका स्वागत है।

उन्होंने बैलेट पेपर और EVM से होने वाले चुनाव प्रक्रिया को समझाते हुए कहा कि बैलेट पेपर पर एक साथ सील लगाई जा सकती है और उसे एक साथ मतपेटियों में डाला जा सकता है,लेकिन EVM मशीन में एक वोट डालने में 15 सेकंड का समय लगता है,एक EVM मशीन में वोट डालने में 4 से 5 घंटे का समय लगेगा। इस दौरान गड़बड़ी होने से पहले सुरक्षा बल आकर स्थिति संभाल सकते हैं। उन्होंने बताया कि हम नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे एक जगह से दूसरी जगह ट्रांसफर होने वाले वोट अपने आप कट जाएंगे।

रावत ने कहा कि जिन लोगों की शिकायतें आई हैं, उस पर हम काम कर रहे है। उन्होंने ये भी कहा कि चुनाव में अधिक से अधिक वोट डले इसके लिए कोशिश जारी है । मतदाता सूचियों का पुनरीक्षण का काम भी ठीक तरह किया जा रहा है। देश में एक साथ चुनाव कराने के सवाल पर रावत ने कहा कि इसके लिए कानून और संविधान में बदलाव करना होगा, साथ ही EVM मशीनों की संख्या, पुलिस की तैनाती मतदान केंद्रों की संख्या सभी चीजों पर असर पड़ेगा। जब यह सभी चीजें पर्याप्त हो जाएंगी तभी एक साथ चुनाव कराने के बारे में सोचा जा सकता है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here