चीनी रैपिड टेस्टिंग किट्स से होगा कोरोना टेस्ट की नहीं, आज बताएगी ICMR की रिपोर्ट

नई दिल्ली: इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने चीन से मंगाकर राज्यों को कोरोना वायरस की जाँच करने के लिए रैपिड टेस्ट किट्स उपलब्ध कराये थे। लेकिन टेस्ट में गड़बड़ी के चलते ICMR ने 2 दिनों के लिए राज्यों को रैपिड टेस्टिंग किट का उपयोग नहीं करने की सलाह दी थी। जो आज पूरा हो रहा है। आज रैपिड टेस्ट किट्स को लेकर ICMR अपनी रिपोर्ट पेश करेगा।

मंगलवार 21 अप्रैल 2020 को ICMR के वैज्ञानिक आर. गंगाखेड़कर ने जानकारी देते हुए बताया था की, 4,49,810 सैंपलों का टेस्ट हो चूका है। कल 35,852 सैंपलों का टेस्ट हुआ जिसमे से 29,776 सैंपलों का टेस्ट ICMR नेटवर्क की 201 लैब में तथा अन्य 6,076 सैंपलों का टेस्ट 86 निजी लैब में किया गया है। इसके अलावा यह भी जानकारी दी की फ़िलहाल 2 दिनों के लिए राज्यों को रैपिड टेस्टिंग किट का उपयोग नहीं करने की सलाह दी गई है। क्यूंकि रिजल्ट में बहुत मतभेद देखने को मिल रहे थे।

आज तय होगा की इन चाइनीज रैपिड टेस्टिंग किट के इस्तेमाल पर रोक लगायी जाएगी या आगे भी इन्ही रैपिड टेस्टिंग किट के माध्यम से कोरोना की जाँच होगी। वैसे उम्मीद कम ही है की इन रैपिड किट से कोरोना जांच आगे जारी रहे। क्यूंकि रैपिड टेस्ट किट्स पर राज्य पहले ही ऊँगली उठा चुकी है।

राजस्थान राज्य ने पहले रैपिड टेस्टिंग किट में अलग-अलग रिजल्ट आने की बात कही थी। क्यूंकि जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना संक्रमित मरीज का टेस्ट किट निगेटिव दिखाने लगा। डॉक्टरों को शक होने पर सवाई मानसिंह में भर्ती कोरोना 100 मरीजों के टेस्ट हुए जिनमे से 5 ही पॉजिटिव निकले थे।

उसके बाद उन इलाकों में इन रैपिड किट के जरिये टेस्ट किये गए जहाँ दूर दूर तक कोरोना का एक भी मरीज नहीं था। वहां 1285 टेस्ट किये गए जिनमे से 23 पॉजिटिव पाए गए। फिर 1182 टेस्ट किए गए तो एक ही परिवार के 5 लोग पॉजिटिव पाए गए बाकी सब निगेटिव आए।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …