CM योगी ने मुरादाबाद घटना का लिया संज्ञान, रासुका के तहत कार्रवाई करने का दिया निर्देश

उत्तर प्रदेश में जहाँ कोरोना पर काफी हद कर काबू किया है लेकिन अभी भी यूपी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 735 है। जिनमे से 11 लोगो की मौत हुई है वही 51 लोग ठीक भी हुए है जबकि अभी भी 673 केस एक्टिव है। यूपी में डॉक्टर की टीम दिन -रात एक करके लोगो को इस गंभीर महामारी से बचा रही है।

इसी बीच मुरादाबाद में मेडिकल टीम और पुलिस कर्मियों पर पथराव करने की घटना सामने आयी है। मिली जानकरी के मुताबिक, मुरादाबाद में अभी हाल ही में एक कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मर गया है। नागफनी थाना अंतर्गत हाजी नेक की मस्जिद के पास कोरोना संक्रमित मृतक के भाई को क्वारंटाइन करना था। लेकिन परिवार वाले मेडिकल टीम और पुलिस कर्मियों पर पथराव करने लगे। पुलिस ने मौके से 12 लोगो को गिरफ्तार किया है। मुख्यमंत्री योगी ने मुरादाबाद की घटना का संज्ञान लिया तथा आरोपियों पर एनएसए की कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिया है। यह भी कहा है कि, राजकीय संपत्ति के नुकसान की भरपाई भी सख्ती से की जाएगी।

न्यूज़ एजेंसी एरएनआई के अनुसार, मुरादाबाद में कुछ लोगों ने COVID19 पॉजिटिव मरीज (जो हाल ही में मर गया) के परिवार को, उन्हें एक क्वारंटाइन सुविधा में ले जाने के लिए मेडिकल टीम और पुलिस कर्मियों पर पथराव किया। एक डॉक्टर और फार्मासिस्ट सहित 3 लोग घायल हो गए।

डॉ. एसपी गढ़, मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया की, आज मुरादाबाद में एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। डॉक्टरों की एक टीम COVID19 पॉजिटिव मरीज (जिनकी हाल ही में मृत्यु हो गई) के परिवार को लेने के लिए गए थे, उन्हें एक क्वारंटाइन सुविधा में ले जाने के लिए। डॉक्टर और फार्मासिस्ट सहित 3 लोग घायल हुए है।

वही घायल डॉक्टर एससी अग्रवाल ने जानकरी दी की, कोरोना संक्रमित परिवार से 4 व्यक्तियों को क्वारैंटाइन में लेने के लिए हम नागफनी थाना अंतर्गत हाजी नेक की मस्जिद के पास गए थे। जैसे ही वह लोग एम्बुलेंस में बैठे, भीड़ ने हंगामा शुरू कर दिया। भीड़ ने मेडिकल टीम व पुलिस पर हमला करना शुरू कर दिया। एक बुजुर्ग ने मुझे बचाया। फिर पुलिस ने पहुँचकर अस्पताल भिजवाया।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …