बिहार में मोदी लहर ख़त्म करने वाले कांग्रेस सांसद मौलाना असरारुल हक़ का हुआ इंतेक़ाल

0
351

बिहार: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मुस्लिम सांसद असरार उल हक कासमी का शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। कासमी 76 साल के थे। मीडिया खबर के अनुसार, गुरुवार रात को एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे कासमी को ठंड लगने से अचानक तबीयत बिगड़ गई जिसके बाद तुरंत उनको सर्किट हाउस लाया गया। वही उन्होंने अपनी आखिरी साँसे ली।

सूत्रों की माने तो उनको उनके पैतृक गांव ताराबाड़ी में दफ़न किया जायेगा। कासमी के दो बेटियां और तीन बेटे हैं उनकी पत्नी का पहले ही निधन हो चुका है। असरार उल हक कासमी ने मोदी लहर में 2014 लोक सभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ जीत दर्ज की थी।

असरारुल हक कासमी साहब के निधन की खबर सुनते ही समर्थकों ने रोना शुरू कर दिया। सुपुर्द ए खाक के समय उनके पैतृक गांव ताराबाड़ी में कांग्रेस के कई बड़े नेताओ की पहुंचने की उम्मीद है।

कासमी ने समाज में मजबूत पकड़ बनाई थी। जिसके दम पर वह 2014 लोक सभा चुनाव जीत पाए थे। वही कासमी सामाजिक कामों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते थे अक्सर उन्हें सांसद में गरीबों और मुस्लिम लोगों के लिए आवाज उठाते हुए देखा गया है।

loading...