कोरोना: विपक्ष की होने जा रही बड़ी बैठक, मोदी सरकार को घेरने का बनाएंगे प्लान

नई दिल्ली: देश में बुधवार को कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1 लाख 6 हजार से ऊपर पहुंच गई है। इस समय देश किस मुसीबतों से गुजर रहा है इसका अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि विपक्ष के कई बड़े नेता केंद्र सरकार के साथ खड़े हैं। लेकिन अभी भी विपक्षी पार्टियों के कई ऐसे नेता है जो इस संकट की घड़ी में केंद्र सरकार को घेरना चाहते हैं जिसके लिए विपक्ष की एक शुक्रवार को 3 बजे बड़ी बैठक होने जा रही है।

जिसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, एनसीपी नेता शरद पवार, डीएमके नेता एम के स्टालिन और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत 15 राजनीतिक पार्टियों के नेता शामिल होंगे। इस बैठक में कोरोना और लॉकडाउन को लेकर चर्चा हो सकती है।

सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक, विपक्ष की इस बैठक में कोरोना और लॉकडाउन को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से उठाए गए एहतियाती कदम के बारे में चर्चाएं होंगी और सरकार की तरफ से राज्य सरकारों के साथ किए जा रहे रवैया पर भी चर्चाएं होंगी। अभी इस बैठक में कांग्रेस की तरफ से कौन हिस्सा लेगा अभी यह स्थिति साफ नहीं है।

इससे पहले 26 अप्रैल को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को धोखा देना केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि, ‘हमने केंद्र से दाल मांगी, क्योंकि हम अपने राज्य में खाद्य सुरक्षा कानून के तहत लोगों को अनाज देते हैं, लेकिन हमारे पास सिर्फ चावल है। इसलिए हमने दाल और गेहूं की मांग की है जो हमें अब तक नहीं मिला। मुझे लगता है कि दाल में कुछ काला है लेकिन दाल तो आने दो।’

Check Also

कंटेनमेंट जोन: 30 जून तक लॉकडाउन से राहत नहीं, सख्ती से लागु होगा….

नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन 5.0 को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी है लेकिन …