कोरोना संकट: श्रद्धालुओं के लिए बड़ी खुशखबरी, 23 जून को शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा रद्द नहीं की जाएगी

प्रशासन दवारा जानकारी दी गई है कि, 23 को शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा रद्द नहीं की जाएगी। दरअसल, पहले प्रशासन ने इस साल होने वाली अमरनाथ यात्रा को रद्द करने का आदेश दिया था। लेकिन अब इस आदेश को प्रशासन दवारा वापस ले लिया गया है। देश में बढ़ते कोरोना मामलो को लेकर अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने इस साल जून से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा को रद्द करने का नोट जारी किया था। जम्मू में राजभवन में बुधवार को हुई एक अहम बैठक में लेफ्टिनेंट गवर्नर गिरीशचंद्र मुर्मू के साथ श्राइनबोर्ड की अहम बैठक हुई थी।

अमरनाथ श्राइन बोर्ड का गठन साल 2000 में किया गया था। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल/उपराज्यपाल इसके चेयरमैन होते हैं। इससे पहले पिछले साल अगस्त में केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 हटाने के ठीक 3 दिन पहले सुरक्षा का हवाला देते हुए अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दी थी। लेकिन यात्रा रोके जाने तक साढ़े तीन लाख लोग गुफा में दर्शन कर चुके थे।

इस समय जम्मू कश्मीर में 407 कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं, जिनमें से 351 कश्मीरी है। जिस जगह से अमरनाथ यात्रा गुजरती है, उस कश्मीर घाटी के 10 जिले कोरोना प्रभावित हैं। चार जिले श्रीनगर, बारामुला, बांडीपोरा और कुपवाड़ा को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है।

तय कार्यक्रम के अनुसार, इस यात्रा के लिए लोगों के रजिस्ट्रेशन 1 अप्रैल को शुरू होने थे। यात्रा को लेकर महीनों पहले से बर्फ हटाने का काम शुरू हो जाता है, जबकि इस बार वहां अभी भी कई फीट बर्फ मौजूद है। जम्मू में जिस यात्री निवास को अमरनाथ यात्रियों का बेस कैम्प बनाया जाता था, वह इन दिनों क्वारैंटाइन सेंटर बना हुआ है। फ़िलहाल जम्मू कश्मीर की सीमा को सील किया हुआ है और जरूरी सामान के अलावा किसी भी गाड़ी के आनेजाने की मनाही है। टूरिज्म इंडस्ट्री से जुड़े स्थानीय लोगों को इस यात्रा का हर साल इंतजार होता है। वहां रहने वालों का सालभर की आमदनी निर्भर होती है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …