कोरोना धर्म और जाति देखकर नहीं करता हमला, चुनौती से लड़ने के लिए एकता और भाईचारे की जरूरत: PM मोदी

नई दिल्ली: भारत में कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस महामारी से निपटने के लिए एकता और भाईचारे की बात कही है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना धर्म, जाति, रंग भाषा और सीमाएं देखकर हमला नहीं करता। बल्कि हमें इस मुश्किल समय में सबको साथ मिलकर इस चुनौती से निपटने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा है कि, ‘दुनिया कोविड-19 से लड़ रही है, लेकिन भारत के ऊर्जावान और प्रगतिशील युवा अधिक स्वस्थ और समृद्ध भविष्य सुनिश्चित करने का रास्ता दिखा सकते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एकता और भाईचारे की बात उस समय की जब यूपी के मेरठ के एक अस्पताल द्वारा मुसलमानों के इलाज पर रोक लगाने के लिए मामला दर्ज किया गया है। अस्पताल में विज्ञापन के जरिए कहा था कि कोई भी मुस्लिम उनके यहां इलाज कराने आए तो पहले वह कोरोना टेस्ट कराएं और जब रिपोर्ट नेगेटिव आ जाए तभी अस्पताल आए हालांकि विवाद बढ़ने के बाद अस्पताल में फिर से विज्ञापन देकर माफी मांगी है।

बता दे कि भारत में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार भारत में कोरोनावायरस से संक्रमितो की संख्या अब बढ़कर 16116 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में करोना के 1324 नए मामले सामने आए हैं वही 31 लोगों की मौत भी हुई है देश में अब तक कोरोना से 519 लोगों की मौत हो चुकी है हालांकि 2302 लोग कोरोना से ठीक भी हो चुके हैं।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …