16 साल पहले पत्रकार की हत्या में राम रहीम समेत 4 दोषी करार, 17 को कोर्ट सुनाएगी सजा

0
323
photo credit: ANI
Loading...

हरियाणा: पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने 16 साल पुराने सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में शुक्रवार को राम रहीम समेत 4 लोगों को दोषी पाया। सीबीआई कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में गुरमीत राम रहीम, निर्मल, कृष्ण लाल और कुलदीप को आज 11 जनवरी को दोषी करार दिया। वही इन दोषियों को सजा 17 जनवरी को सुनाई जाएगी। सुनवाई के दौरान सुरक्षा के मद्देनज़र पंचकूला के डीसीपी कमलदीप गोयल ने जिले में गुरुवार रात से ही धारा 144 लागू कर दी थी।

बता दें कि पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत जज जगदीप सिंह ने 16 साल पुराने पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में गुरमीत राम रहीम, कृष्ण लाल, निर्मल और कुलदीप को 2 जनवरी को अदालत में पेश होने के लिए कहा था। हालांकि सुरक्षा में कोई चूक न हो इसलिए हरियाणा सरकार पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत से अपील की थी की राम रहीम की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कराई जाये जिसे अदालत ने मंजूरी दे दी थी। गौरतलब है की जज जगदीप सिंह साध्वी यौन शोषण मामले में भी गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सुना चुके हैं।

वही सुनवाई के दौरान हरियाणा पुलिस ने सिरसा में डेरा सच्चा सौदा से लेकर सिरसा शहर तक पुलिस की 12 कंपनियां तैनात को तैनात किया गया था। इसके अलावा डेरा सच्चा सौदा को चारो तरफ से पुलिस छावनी बना दिया गया था। साथ ही 10 डीएसपी और 12 इंस्पेक्टर भी सिरसा में तैनात किये गए थे।

बतादे की सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति ने अपने अखबार पूरा सच में साध्वी यौन शोषण मामले की खबरे छापी थी। जिसको लेकर गुरमीत राम रहीम ने पत्रकार पर पहले दबाव बनाया। पत्रकार रामचंद्र छत्रपति जब राम रहीम की धमकियों से नहीं डरे तो 24 अक्टूबर 2002 को उन पर गोली चलवा दी। 21 नवंबर 2002 को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की मौत हो गई।

जनसत्ता के अनुसार, आरोप है कि कुलदीप ने बाइक से आकर रामचंद्र की गोली मारकर हत्या की थी। उस दिन कुलदीप के साथ निर्मल भी मौजूद था। जिस रिवॉल्वर से गोली चली थी उस रिवॉल्वर का लाइसेंस डेरा सच्चा सौदा के मैनेजर कृष्ण लाल के नाम पर था। पत्रकार की हत्या में गुरमीत राम रहीम पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगा है।

Loading...