COVID-19 Outbreak: भारत में कोरोना से हालात हुए चिंताजनक, 0.46% मरीज वेंटिलेटर पर, 2.31% ICU में एडमिट और 4.51% संक्रमित ऑक्सीजन सपोर्ट पर

0


COVID-19 Outbreak: भारत में कोरोना से हालात हुए चिंताजनक, 0.46% मरीज वेंटिलेटर पर, 2.31% ICU में एडमिट और 4.51% संक्रमित ऑक्सीजन सपोर्ट पर

कोरोना का कहर (Photo Credits: PTI)

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण से हालात चिंताजनक हो गए है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (COVID-19) के 1,31,968 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,30,60,542 हो गई है. जबकि 780 नई मौतों के बाद कुल मौतों का आंकड़ा 1.67 लाख को पार कर गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) के मुताबिक देशभर में अभी 0.46 फीसदी सक्रिय गंभीर मरीज वेंटिलेटर पर हैं, जबकि 2.31 फीसदी पीड़ित आईसीयू में हैं और 4.51 फीसदी कोरोना वायरस से संक्रमित लोग ऑक्सीजन सपोर्ट पर है. भारत में कोरोना से मृत्यु दर लगातार कम हो रही है और अभी मृत्यु दर 1.28 फीसदी है. वर्तमान में देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 9,79,608 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,19,13,292 है. महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के गांवों के हालात से हमें भी सबक लेना चाहिए: गहलोत

स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज सुबह ग्रुप ऑफ मिनिस्टर (GoM) की 24वीं बैठक की. इस बैठक में केंद्रीय मंत्री डॉ एस जयशंकर, हरदीप सिंह पुरी और ​अश्विनी कुमार चौबे भी मौजूद रहे. इस दौरान हर्षवर्धन ने बताया कि देश में कुल 9,43,34,262 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है. 89 लाख से ज़्यादा हेल्थकेयर वर्कर को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज मिली है और 54 लाख से ज़्यादा हेल्थकेयर वर्कर को वैक्सीन की दूसरी डोज मिली है. जबकि अब तक 84 देशों को वैक्सीन की 6.45 करोड़ डोज निर्यात की जा चुकी हैं.

देश के 149 जिलों में पिछले 7 दिनों में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है, जबकि 8 जिलों में पिछले 14 दिनों में घातक वायरस से पीड़ित एक भी मरीज नहीं मिला है. वहीं, देश के 3 जिलों में पिछले 21 दिनों में कोई नया मामला सामने नहीं आया है और कुल 63 जिलों में पिछले 28 दिनों से कोविड-19 का केस नहीं मिला है.





Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।