इंडोनेशिया में तबाही: दफनाने के लिए खोदी गयी 100 मीटर लंबी कब्र

0
177

इंडोनेशिया :इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप पर 7.5 की तीव्रता से आये भूकंप और विनाशकारी सुनामी से इंडोनेशियाई सरकार ने मंगलवार को कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़कर 844 से बढ़कर 1,234 हो गयी है। देश के आपदा प्रबंधन एजेंसी के मुताबिक, बचाव कार्य अभी भी जारी है।

इंडोनेशिया के आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो नुग्रोहो ने सीएनएन के अनुसार बताया है की रविवार को मरने वालो की गिनती की पुष्टि की गयी है बताया की शुक्रवार को आए भूकंप और विनाशकारी सुनामी से 24 लाख लोगों के प्रभावित होने का अनुमान है। जिनमे इस आपदा में सुलावेसी और पालू शहर बुरी तरह प्रभावित हुये है।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी (बीएनपीबी) के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुग्रोहो ने बताया की इस तटवर्ती शहर पालू में एक शॉपिंग मॉल पूरी तरह मलबे में बदल गया और एक मस्जिद का बड़ा सा गुबंद गिर गया है। इस शहर में करीब साढ़े 3 लाख लोग रहते है जिनमे सैकड़ो लोग घायल हुये है और 17000 के करीब बेघर है।

जेलफेंड ने CNN को बताया की सुनामी से प्रभावित हुये लोगो तक इंडोनेशियाई रेडक्रॉस पहुंचकर जल्द से जल्द मदद पहुंचाने की कोशिश कर रही है। न्यूज़ एजेंसी ‘एफे’ के अनुसार, नुग्रोहो ने कहा कि सुमनी में मरे लोगो के शवों के सामूहिक दफन की प्रक्रिया पालू के बाहरी इलाके में होगी।

सुनामी में मारे गए लोगो को दफ़नाने के लिए स्वयंसेवकों ने पालू के पहाड़ी इलाके पोबोया में 100 मीटर लंबी कब्र खोदी है। साथ ही उन्हें 1,300 पीड़ितों को दफनाने की तैयारी करने के लिए आदेश दिए गए थे। खराब होते शवों के कारण बीमारियों के फ़ैलाने को रोकने के लिए इंडोनेशियाई अधिकारी संघर्ष कर रहे हैं। इस आपदा के बाद से इंडोनेशिया में 14 दिन का आपातकाल घोषित किया गया है।
ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

Loading...