क्या बिचौलिए मिशेल के बदले दुबई की राजकुमारी का हुआ सौदा, यूएन ने भारत से मांगा जवाब

0
95

यूएई के प्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम की बेटी तथा राजकुमारी शेखा लतीफा तथा अगुस्टा वेस्टलैंड डील के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को अभी जल्द ही भारत लाए जाने को लेकर यूएन की जबरन लापता किए गए लोगों के लिए बनाई गई समिति ने इस सबंध में भारत से जवाब माँगा है।

बता दे की, यूएई की राजकुमारी शेखा लतीफा ने मार्च ने अमेरिकी झंडे वाली एक नौका में सवार होकर दुबई से भाग निकली थी। जो गोवा के करीब भारतीय समुद्री सीमा में उनका कथित तौर पर अपहरण कर लिया गया था। राजकुमारी शेखा लतीफा का कहना था की उनके पिता उनको बंदी बनाकर रख रहे थे। समाचार पत्र की खबर के अनुसार, भारतीय समुंद्री सीमा में पहुंचने पर भारतीय सेना और यूएई की सेना ने मिलकर उस नाव को रोका था जिसमे राजकुमारी सवार थी। और उसे जबरन अपने साथ ले गए थे। इसके बाद से ही राजकुमारी लतीफा लापता है।

अब सूत्रों के हवाले से खबर है की, दुबई से भागी ‘राजकुमारी’ लतीफा को वापस देने के बदले अगुस्टा वेस्टलैंड के कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल का प्रत्यर्पण हुआ है। वही राजकुमारी को मार्च के बाद से कभी देखा नहीं गया और ना ही किसी को उनके बारे में सुचना है। लतीफा ने पकडे जाने से पहले एक विडियो बनाया था जिसमे कहा था की ‘अगर आप यह विडियो देख रहे हैं या तो मैं मर चुकी हूं या फिर बहुत बुरी परिस्थिति में हूं।’

लतीफा के वकीलों ने संयुक्त राष्ट्र से इस मामले में दखल देने की गुजारिश की और राजकुमारी के लापता होने के पीछे भारत और दुबई को जिम्मेदार बताया। वकील एमनेस्टी ने आरोप लगाते हुये कहा की, भारतीय सेना ने बंदूक की नोक पर बाकि नाव में सवार लोगों को चुप रहने को कहा और राजकुमारी को अपने साथ ले गए। जबकि वह राजनीतिक आश्रय की मांग कर रही थी। हालांकि भारत के विदेश मंत्रालय और भारतीय नवसेना ने इस मामले में कोई टिप्पणी अभी तक नहीं की है।

loading...