फिशिंग के दौरान मछली ने उछाल कर किया युवक पर हमला, गर्दन के आरपार हुई

मुहम्मद इदुल नाम का 16 वर्षीय टीनेजर शनिवार रात मछली पकड़ रहा था। वह दक्षिणपूर्व सुलावेसी के दक्षिण बुटन रीजेंसी में फिशिंग कर रहा था। फिशिंग के दौरान उसके साथ जो हुआ उसे वह कभी भूल नहीं पायेगा, अचानक मुहम्मद इदुल पर एक नीडलफिश ने हमला कर दिया जो की जानलेवा हमला था। हमले में नीडलफिश लड़के की गर्दन के आरपार निकल गई।

इदुल के पिता सहरुद्दीन ने इस घटना पर बताया कि उनका बेटा वीकेंड पर एन्जॉय करने के लिए मछली पकड़ने गया था, इस दौरान वो बोट पर सवार होकर मछली पकड़ रहा था तभी, अचानक नीडलफिश ने छलांग लगाई और अपने थूथूने को उसकी गर्दन में घुसा दिया, मछली के थूथूने मेरे बेटे की गर्दन के आरपार हो चुके थे।

तस्वीर में आप देख सकते है कि किस तरह मछली लड़के की गर्दन में घुसी हुई है। ये तस्वीर चौंका देनेवाली है। घायल हालत में इदुल बोट के बाहर निकलने में कामयाब हुआ। उसने अपने एक हाथ से मछली को पकड़ा हुआ था, जबकि मछली का थूथना अब भी उसकी गर्दन में घुसा हुआ था। युवक को पास के बाउबाऊ शहर के अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन वहां के डॉक्टर ने मछली के थूथन को ईदुल के गले से निकालने का कोई जोखिम नहीं उठाया।

जिसके बाद उसे मकरसर के एक अस्पताल में ले जाया गया, जहां 6 डॉक्टर्स की टीम ने मिलकर उसकी क्रिटीकल सर्जरी की, जिसमे करीब एक घंटा लगा। फ़िलहाल संभावित संक्रमणों को रोकने के लिए इदुल को डॉक्टर्स की निगरानी में ही है। वह धीरे धीरे ठीक हो रहा है। आपको बात दें कि नीडलफिश हमले और हत्या की कई घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। 2018 में एक नीडलफिश दवारा एक थाई नौसैनिक अधिकारी की हत्या हुई थी।

Check Also

शादी करके जिसे पति लाया घर, सुहागरात में वो निकला एक मर्द, सच्चाई जानकर चौंक गए सब

एक चौकाने वाली घटना सामने आई जिसमे सभी के होश उड़ गए। घटना इंडोनेशिया की …