फिर भूकंप के झटकों से हिली दिल्ली, 2 महीने के भीतर आये रिकार्ड तोड़ भूकंप

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के बीच एक बार फिर दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप सोमवार दोपहर करीब दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर 2.1 तीव्रता के इस भूकंप का केंद्र दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर 18 किलोमीटर थी।

फिलहाल इस भूकंप की वजह से किसी तरह के नुकसान की कोई खबर सामने नहीं आई है। बता दें कि पिछले 60 दिनों के अंदर दिल्ली-एनसीआर में मध्यम से तीव्रता वाले 14 भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।

केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली एक संस्था के चीफ ने बताया कि लगातार एनसीआर क्षेत्र में भूकंप की गतिविधियां जारी है जो दिल्ली में बड़े भूकंप की वजह बन सकता है।

वही सेंट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट (CBRI) रुड़की के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह भूकंप टेक्नोटेक प्लेटों के बीच हो रहे घर्षण से निकली एनर्जी है लेकिन इसे भविष्य में चेतावनी मानकर एहतियाती कदम उठाने की जरूरत है। वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि 5 मैग्नीट्यूड से कम क्षमता के आने वाले भूकंप से किसी तरह का खतरा नहीं है लेकिन दिल्ली एनसीआर में इतने कम समय में इतने भूकंप आने चिंता का विषय है हमें समय रहते जरूरी कदम उठाने चाहिए।

Check Also

अनलॉक 2: क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद, यहाँ जाने खुलकर

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने अनलॉक-2 के लिए नई गाइडलाइन्स जारी कर दी है। जिसमे …