किसानों ने PM मोदी को 17 रुपये के चेक भेजकर कहा- इतने में तो चाय भी नसीब नहीं

0
89

किसानों ने प्रधानमंत्री को 17 रुपये के चेक भेज विरोध जताते हुए केंद्र सरकार द्वारा दिए जाने वाली किसानों को पेंशन का ऐलान को एक जुमला बताते हुए पेंशन राशि को अप्रयाप्त बताया। किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय संयुक्त समन्वयक राजू मान की नेतृत्व में किसानों ने माँग की केंद्र सरकार पहले किसानो के कर्ज माफ़ करे तथा बर्बाद फसलों का मुआवजा दे। उसके बाद पेंशन योजना में इजाफा करके किसानो को दे।

किसानो के कहा अगर केंद्र सरकार ऐसा नहीं करती है तो किसान कांग्रेस आने वाले दिनों में किसानों के साथ बड़ा आंदोलन शुरू करेगी। वही राजू मान ने कहा की, केंद्र सरकार द्वारा पेश किया गया अंतरिम बजट में किसानों को 6 हजार रुपये का सालाना भत्ता देना सिर्फ जुमला है क्यूंकि ये केवल आने वाले चुनाव को ध्यान में रखकर किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है।

केंद्र सरकार ने किसानो को एक दिन में 17 रुपये देकर जख्म पर दवा लगाने की जगह नमक छिडकने का काम हुआ है। राजू मान ने कहा इतने पैसे में तो एक किसान का परिवार चाय तक नहीं पी सकता खर्च चलाने की बात दूर है। आज यहाँ प्रधानमंत्री को नींद से जगाने के लिए किसान 17-17 रुपये के चेक देने आये है। मान ने कहा कि किसानो के कर्ज माफ़ तथा बर्बाद फसलों का मुआवजा मिलने तक लगातार कोशिशे जारी रहेंगी।

Loading...