‘लॉकडाउन में फंसे बाप-भाई तो 7 साल के मासूम बच्चे पर आई घर की जिम्मेदारी, सब्जी बेंचकर भर रहा मां और 3 बहनों का पेट!’

कोरोना वायरस महामारी की वजह से लॉकडाउन को अब भारत में 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा मुसीबत में प्रवासी मजदूर है। जिसकी वजह से 7 साल के बच्चे शनि पर एका-एक घर की जिम्मेदारी आ पड़ी है।

दरअसल, लॉकडाउन की वजह से पिता और भाई दिल्ली में फँसे हुए है। इसीलिए पेट पालने के लिए शनि ने घर की जिम्मेदारी संभाली है। शनि ने बताया की पिता और भाई के दिल्ली में फँसे होने से घर की जिम्मेदारी अब मैंने सँभालने की ठान ली है। शनि ने अलावा घर में मां और तीन बहने और छोटा भाई हैं।

शनि ने बताया की माँ इतना नहीं कमा पति है की हम सभी का पेट पाल सके। लॉकडाउन के कारण अब तो वह काम पर भी नहीं जा रही है। घर के हालात ठीक नहीं होने की वजह से आठ में पढ़ने वाले शनि ने खुद कुछ काम करने की सोची।

सब्जी मंडी में आढ़ती से उधार में सब्जी खरीद कर 50 रुपये किराये पर ठेला ले शनि सब्जी बेचने लगा। शाम तक सब्जी बेचकर जो पैसा मिलता उससे अपने परिवार का पेट पाल रहा है। शनि ने अपनी मज़बूरी बताते हुए कहा की, अगर मै सब्जी नहीं बेचता तो मां की दवाएं कहां से आती हम लोग अपना पेट कैसे भरते। अब जब तक पिता और भाई मदद नहीं करते तब तक सब्जी बेचकर घर चलाता रहूँगा।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …