70 साल में पहली बार ऑस्ट्रेलिया में भारत ने रचा इतिहास, विराट कोहली की टीम ने जीती पहली सीरीज

0
84
photo credit: BCCI

70 साल में पहली बार विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने इतिहास रचते हुए सीरीज अपने नाम कर ली। असल में सिडनी टेस्ट के पांचवें दिन सोमवार को बारिश की वजह से अंपायर्स ने स्टंप्स का फैसला लिया। इसी के साथ ही भारत ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज पर 2-1 से अपना कब्ज़ा जमा लिया।

भारतीय टीम 1947 से लगातार ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर रही थी लेकिन कोई भी सीरीज जितने में नाकाम रही। 70 साल में पहली बार विराट कोहली वो कर दिखया जो किसी को उम्मीद नहीं थी। सिडनी टेस्ट में भारतीय टीम ने पहला टेस्ट मैच एडीलेड में 31 रनो से जीता था। लेकिन आस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में भारत से 146 रन से जीतकर वापसी कर ली थी। लेकिन भारत टीम ने मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया को हराकर तीसरा मैच 137 रन से जीतकर श्रृंखला में 2-1 की बढ़त बना ली थी जो अंत में काफी मददगार साबित हुई।

भारत ने इस सीरीज में अपनी पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत के धुवादार बल्लेबाजी से 7 विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित की। इसके बाद कुलदीप यादव की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया के पांच विकेतो के बाद पहली पारी में 300 रनों पर सिमित कर दिया था। वही चेतेश्वर पुजारा को इस मैच के लिए् मैन ऑफ द मैच और सीरीज में उनकी धुवादार बल्लेबाजी को देखते हुए उन्हें मैन ऑफ द सीरीज भी दिया गया।

वही भारत ने 322 रनों की प्रगमन के साथ ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन दिया। लेकिन बारिश की वजह से ऑस्ट्रेलिया को थोड़ी राहत मिल गई। भारत का ऑस्ट्रेलिया में यह 12वां दौरा था जब भारतीय टीम ने कोई सीरीज अपने नाम की है। वही अब विदेशी दौरों पर नज़र डाले तो भारतीय टीम सिर्फ साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।

आजादी के बाद से भारत ने कुछ ही समय बाद पहली बार 1947-48 में लाला अमरनाथ की अध्यक्षता में ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था। उस समय ‘सर डॉन’ ब्रैडमैन की आस्ट्रेलियाई टीम से मुकाबला हुआ था। तब से लेकर आज तक भारत सीरीज जीतने का इंतजार कर रही थी जो विराट कोहली की टीम ने पूरा किया है।

Loading...