ज़िन्दगी और मौत के बीच अस्‍पताल में जूझ रहा इंडिया टीम का पूर्व क्रिकेटर, पत्‍नी के पास इलाज तक के पैसे नहीं, मांगी मदद

0
1587
photo credit: Twitter/iamyusufpathan
Loading...

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर जैकब मार्टिन इन दिनों ज़िन्दगी और मौत के बीच जूझ रहे है। असल में पिछले महीने 28 दिसंबर को एक सड़क दुघर्टना में जैकब मार्टिन के फेफड़े और लीवर को काफी नुकसान पहुँचा। जिसके बाद बडोदरा के एक अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। और उन्हें लाइफ सपॉर्ट पर रखा गया है। वही मार्टिन के परिवार वाले और पैसो के इंतेज़ाम में जुटे हुए है। पहले ही अस्पताल का बिल 11 लाख रुपये के पार जा चूका है।

जनसत्ता के अनुसार, मार्टिन के परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण इलाज के लिए और पैसो के लिए परिवार वालों ने बीसीसीआई और दूसरे बल्लेबाजो से मदद की गुहार लगाई है। जिसके बाद बीसीसीआई आगे आते हुए पांच लाख रुपये की मदद दी थी। इसके अलावा बड़ौदा क्रिकेट संघ ने उन्हें तीन लाख रुपये की मदद दी है। कुछ दिन पहले पैसे के चलते मार्टिन को अस्पताल से दवाइयां भी मिलना बंद हो गयी थी।

बड़ौदा क्रिकेट संघ के एक अधिकारी के बताया की, जब हमें इस घटना के बारे में पता चला तो हमने मदद करने के लिए आगे आते हुए तीन लाख रुपये की मदद दी है। इसके बावजूद भी परिवार वालों को अभी इलाज के लिए और पैसों की जरूरत पड़ सकती है।

बतादे की साल 2001 में रणजी में बडौदा की टीम का जैकब मार्टिन नेतृत्व कर चुके हैं। वह अकेले बडौदा के लिए 100 से अधिक मैचों में भाग ले चुके है। मार्टिन ने अपना पहला मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 1999 में खेला था। इसके अलावा मार्टिन अपने वनडे करियर के 10 मैचों में 158 रन बनाये थे। 90 के दशक में भारतीय टीम के लिए वनडे मैच भी खेले है। अभी कुछ दिन पहले मार्टिन को देखने युसूफ पठान अस्पताल गए थे।

Loading...