गोरखपुर: मदरसे के शिक्षक ने डॉक्टर की पत्नी से मांगी 10 लाख की रंगदारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
112
Loading...

गोरखपुर: प्राइवेट मदरसे में पढ़ाने वाले शिक्षक द्वारा डॉक्टर की पत्नी से रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। शिक्षक ने वाट्सएप पर अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाउद इब्राहिम की फोटो के साथ अपशब्‍दों का इस्तेमाल करके 10 लाख रुपए रंगदारी मांगी थी। पुलिस ने मामला दर्ज करके सर्विलांस के जरिए उसका नंबर ट्रेस कर उसे गिरफ्तार कर लिया। शिक्षक को यह तरकीब फिल्‍म देखने से आई।

एबीपी न्यूज़ के अनुसार, गोरखपुर के BRD मेडिकल कॉलेज के प्रोफ़ेसर सुनील कुमार आर्य 19 अक्‍टूबर की रात को परिवार संग फिल्‍म देख रहे थे। उसी समय साईं निरोग धाम की डायरेक्‍टर रंजना आर्य के फ़ोन पर वाट्सएप के माध्यम से 10 लाख रुपए की रंगदारी का मैसेज और फ़ोन आया। शिक्षक ने धमकी भरे लेहजे में रुपयों की मांग की। जिसके बाद तत्काल रंजना आर्य ने इसकी सूचना पुलिस के उच्च अधिकारियो को दी। आपको बतादे की प्राइवेट मदरसे में पढ़ाने वाले महज 19 साल के शिक्षक शमीम अहमद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

गोरखपुर के कैंट थाने में दर्ज मुक़दमे के बाद पुलिस आरोपी को तलाश करने में जुट गयी। पुलिस ने धमकी भरे फ़ोन काल और मैसेज के द्वारा रंगदारी मांगने वाले को गोरखपुर रेलवे स्‍टेशन के पास से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला की शमीम अहमद महराजगंज जिले के पुरंदरपुर थानाक्षेत्र के रानी परसोहिया का रहने वाला है।

इस मामले पर खुलासा करते हुये कैंट CO प्रभात राय ने बताया कि आरोपी का पहले कोई आपराधिक मुकदमा नहीं है। उसको विज्ञापन के जरिए साईं निरोग धाम की डायरेक्‍टर रंजना आर्य का मोबाइल नंबर मिला था। पुलिस की पूछताछ में शमीम ने बताया की उसे यह तरकीब फिल्म देखने के बाद दिमाग में आई।
पुलिस ने उसके मोबाइल को भी बरामद कर लिया है जिससे डायरेक्‍टर को धमकी भरे मैसेज और फ़ोन किये गए थे। पुलिस ने आरोपी शमीम को कोर्ट में पेश किया जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

Loading...