गुजरात: पीएम मोदी करेंगे अमूल प्लांट का उद्घाटन, वाइस चेयरमैन का ‘बायकॉट’ का ऐलान

गुजरात: गुजरात के आणंद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को 1,500 करोड़ की लागत वाले विभिन्‍न योजनाओ का उद्घाटन करेंगे जिसमे अमूल डेरी का कार्यक्रम भी शामिल है। लेकिन अमूल डेरी कंपनी के वाइस-चेयरमैन राजेंद्रसिंह परमार ने बीजेपी पर आरोप लगाया की भाजपा ने अमूल डेरी के कार्यक्रम को अपने कब्जे में ले लिया है जिसका हम बहिष्कार करेंगे। राजेंद्रसिंह परमार से जब कार्यक्रम के बहिष्कार करने की वजह पूछी गयी तो द इंडियन एक्‍सप्रेस अनुसार, उन्होंने कहा की ऐसा बिलकुल भी प्रतीत नहीं हो रहा है की यह कार्यक्रम अमूल डेरी करवा रहा है। लगता है कि यह कोई राजनैतिक कार्यक्रम है जहाँ भाजपा अपना प्रचार कर रही है। उन्होंने आगे कहा की अमूल डेरी कई प्रधानमंत्री आये हुये है लेकिन कभी किसी पार्टी का झंडा इस्‍तेमाल नहीं किया गया था। उन्होंने बताया की इस कार्यक्रम के बारे में अमूल के प्रबंधन को कुछ जानकारी नहीं है। सब भाजपा पार्टी मैनेज कर रही है।

जब उनसे पूछा गया की इस कार्यक्रम का और कौन-कौन बहिष्कार कर सकता है तो उन्होंने बताया की बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स के कुछ और सदस्‍य रविवार को होने वाले कार्यक्रम का बहिष्कार कर सकते हैं। हालांकि परमार ने उनका नाम नहीं बताया। इस मामले पर अमूल डेरी के चेयरमैन रामसिंह परमार से बात नहीं हो सकी है। अमूल डेरी के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया की मोगर में 90 हजार से अधिक किसानों के आने की उम्‍मीद है जिन्हे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन्‍हें संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को अंजर में मुंद्रा एलएनजी टर्मिनल, आणंद एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में खाद्य प्रस्संकरण में इन्क्यूबेशन सेंटर कम सेंटर ऑफ एक्सीलेंस आणंद में अमूल का आधुनिक चॉकलेट प्लांट, राजकोट में महात्मा गांधी संग्रहालय और मुझकुवा गांव में सौर सहकारी समाज समेत कई परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। वह आणंद और खटराज में अमूल के विनिर्माण केंद्र की नीव भी रखेंगे।

पीएमओ से जारी बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंजर में प्रधानमंत्री मुंद्रा एलएनजी टर्मिनल, पालनपुर-पाली-बाड़मेर पाइपलाइन प्रोजेक्ट और अंजर-मुंद्रा पाइपलाइन प्रोजेक्ट का उद्घाटन करेंगे और जनसभाओं को संबोधित करेंगे।
ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

Check Also

कोविड-19 टीका लगवाना स्वैच्छिक और व्यक्तिगत निर्णय, लोगों का भरोसा धीरे-धीरे बढ़ेगा : सत्येंद्र जैन

कोविड-19 टीकाकरण अभियान के दो दिनों में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगने की रफ्तार धीमी …