प्रेस-कॉन्फ्रेंस में हैकर का दावा- ईवीएम हैकिंग में सभी पार्टिया शामिल, बीजेपी ने 2014 चुनाव में लिया सहारा तो AAP ने जीता दिल्ली चुनाव

0
117
Loading...

नई दिल्ली: लंदन में हुए एक प्रेस-कॉन्फ्रेंस में हैकर द्वारा ईवीएम के खुलासे को लेकर भारत की राजनीति में हड़कम मचा दिया है। इस प्रेस-कॉन्फ्रेंस में हैकर ने बीजेपी पर ईवीएम हैकिंग को लेकर कई गंभीर आरोप लगाए। इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (यूरोप) की तरफ से आयोजित प्रेस-कॉन्फ्रेंस में हैकर ने दावा किया की भारत में कई चुनावों में ईवीएम हैकिंग काम उसने किया है।

हालाँकि उसने बताया की ईवीएम को हैक करना इतना आसान नहीं होता है। और ये ब्लूटूथ या वाईफाई से हैक नहीं किया जा सकता। लेकिन ट्रांसमीटर के जरिए हैक किया जा सकता है। इसके लिए चिपसेट कर्नेल को बाइपास करना पड़ता है। उसने यह भी बताया की ईवीएम में काफी पुराना चिपसेट इस्तेमाल किया जाता है।

हैकर ने पत्रकारों को ये भी बताया की उसने सिर्फ बीजेपी के लिए ही नहीं बल्कि कांग्रेस, आप सपा, बसपा के लिए भी ईवीएम हैक की है। उसका यह भी दावा है कि हाल में हुए राज्यों के विधानसभा चुनावों में भी ईवीम के साथ छेड़छाड़ की गई थी।

साथ हैकर सैयद शुजा ने केजरीवाल की आम आदमी पार्टी के लिए भी काम करने का दावा किया है। उसने बताया की अगर वह नहीं होता तो आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव नहीं जीत पाती। हैकर सैयद शुजा ने बताया की 2014 लोकसभा चुनाव में ईवीएम की टेम्परिंग की मालूमात बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे को थी।

उसने यह भी बताया की बीजेपी के नेताओं से मिलने जब उसकी टीम हैदराबाद पहुंची तो उन पर गोलिया चलाई गयी थी। लेकिन वह बच निकले और अमेरिका चले गए।

Loading...