Aarogya Setu ऐप का सहारा लेकर लोगों की निजी जानकारियां ऐसे चुरा रहे हैं हैकर्स

0
आरोग्य सेतु एक COVID-19 ट्रैकर ऐप है.

आरोग्य सेतु एक COVID-19 ट्रैकर ऐप है.

साइबर एजेंसी ने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप के नाम पर साइबर धोखाधड़ी के मामले बढ़े हैं. जानें कैसे हैकर्स इस ऐप का सहारा लेकर आपकी पर्सनल जानकारियां चुरा रहे हैं…

नई दिल्ली.  भारत की साइबर सुरक्षा एजेंसी ने शनिवार को कहा कि देश में आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप (Aarogya Setu App) के नाम पर ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामलों में तेजी आई है. एजेंसी का कहना है कि कोविड-19 महामारी के दौरान इंटरनेट यूज़र्स (internet users) की जिज्ञासा का लाभ उठा कर ठग उनके साथ साइबर धोखाधड़ी (cyber crime) कर रहे हैं. एजेंसी ने कहा कि साइबर अपराधी विश्व स्वास्थ्य संगठन से जुड़ी लिंक और लोकप्रिय वीडियो कांफ्रेंस (video conference) साइटों जैसे ‘जूम’ आदि से मिलते-जुलते लिंक बनाकर भी लोगों की संवेदनशील सूचनाएं चुरा रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक भारतीय कम्प्यूटर इमरजेंसी प्रतिक्रिया दल (सीईआरटी-इंडिया) द्वारा जारी परामर्श की प्रति में एजेंसी ने कहा है, ‘आरोग्य सेतु ऐप के नाम पर साइबर धोखाधड़ी के मामले बढ़े हैं. अपराधी एसआर विभाग, सीईओ या अन्य किसी जानकारी व्यक्ति का नाम लेकर उपयोक्ताओं को यह कह कर निशाना बनाते हैं कि आपका पड़ोसी संक्रमित हो गया है, देखें और कौन-कौन प्रभावित है, क्या आपके संपर्क में आया कोई व्यक्ति भी संक्रमित हुआ है, आरोग्य सेतु ऐप का उपयोग करने के दिशा-निर्देश आदि बहानों का उपयोग करते हैं.’

(ये भी पढ़ें- Jio का करोड़ों ग्राहकों को तोहफा, इस सस्ते प्लान में 3 महीने तक पाएं 3GB डेटा और अनलिमिटेड फ्री कॉलिंग)

आरोग्य सेतु ऐप उपयोक्ता को ये बताने के लिए कि आसपास में कौन-कौन संक्रमित हुआ है, यह बताने के लिए ब्लूटूथ और जीपीएस का इस्तेमाल करता है. परामर्श में कहा गया है कि हाल में हो रहे साइबर अपराधों में अपराधी इस महामारी का लाभ उठाते हुए लोगों से उनकी संवेदनशील सूचनाएं हासिल कर ले रहे हैं.क्या है Aarogya Setu ऐप?
आरोग्य सेतु एक ट्रैकिंग ऐप है. इस ऐप में GPS सिस्टम और ब्लूटूथ के ज़रिए कोरोना वायरस के संक्रमण से संबंधित मामलों को पता लगाने की सुविधा है. आरोग्य सेतु ऐप एंड्रॉयड और आईफोन दोनों के लिए बनाई गई है. ऐप यूज़र के फोन का ब्लूटूथ, लोकेशन और मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करके यह ट्रैक करता है कि वह किसी COVID-19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है. इस ऐप में कोरोना के हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसे ऑप्शन मौजूद हैं.

(ये भी पढ़ें- 6 हज़ार रुपये सस्ता हुआ 48 मेगापिक्सल 3 कैमरे वाला ये धांसू स्मार्टफोन, खूबसूरत है डिज़ाइन) 

ऐप में एक चैटबॉट शामिल है जो कोरोनो वायरस पर आपके मूल प्रश्नों का जवाब देता है और यह निर्धारित करता है कि आप में कोरोना संक्रमन के लक्षण हैं या नहीं. यह भारत में प्रत्येक राज्य का हेल्पलाइन नंबर भी देता है.