डॉक्टरों को किया परेशान तो समझ लेना, कड़े शब्दों में PM मोदी की अपील

नई दिल्ली: बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की। उन्होंने कोरोना वायरस से जंग जीतने के बारे में बातचीत की। पीएम मोदी ने कहा कि जिस तरीके से महाभारत का युद्ध 18 दिन में जीता था। अब कोरोना वायरस से 21 दिन में जीत की कोशिश है। बातचीत में मोदी ने लोगों से डॉक्टर्स की मदद करने की अपील की।

उन्होंने कहा, ‘अस्पताल में काम करने वाले, पुलिसकर्मी, सरकारी दफ्तरों में काम करने वाले, हमारे मीडियाकर्मी इन सभी का हमें हौसला बढ़ाना चाहिए। कुछ स्थानों से ऐसी घटनाओं की जानकारी भी मिली है, जिससे दिल को चोट पहुंची है।

मेरी सभी नागरिकों से अपील है कि कहीं आपको डॉक्टर, नर्स या मेडिकल स्टाफ के साथ कोई बुरा बर्ताव होता दिख रहा हो तो आप वहां जाकर लोगों को समझाएं कि आप गलत कर रहे हैं। मैंने गृह मंत्रालय और डीजीपी को उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा है जो डॉक्टरों, नर्सों और अन्य पेशेवरों के साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं या नहीं कर रहे हैं जो इस महत्वपूर्ण समय में हमारी सेवा कर रहे हैं।’

पीएम मोदी ने नवरात्रि की बधाई देते हुए कहां की, ‘आप जानते हैं, नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है। मां शैलपुत्री स्नेह, करुणा और ममता का स्वरूप हैं। उन्हें प्रकृति की देवी भी कहा जाता है। आज देश जिस संकट के दौर से गुजर रहा है, उसमें हम सभी को मां शैलपुत्री के आशीर्वाद की बहुत आवश्यकता है।’

इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी ने रात 8 बजे देश की जनता को संबोधित करते हुए कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देश को पूरे 21 दिन के लिए लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है। जो मंगलवार आधी रात से लागू हो चुका है।

इसके अलावा प्रधानमंत्री ने कोरोनावायरस के संक्रमण से मुकाबला करने के लिए स्वास्थ्य अवसंरचना को मजबूत करने के लिए 15,000 करोड़ों रुपए के केंद्रीय आवंटन की भी घोषणा की है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …