INX Media Case में सुप्रीम कोर्ट ने 106 दिन बाद चिदंबरम को दी जमानत, लेकिन ये शर्तें चिदंबरम को पड़ेगी माननी

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को 4 दिसंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया केस में जमानत दे दी। सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम को दो लाख के बांड और इतने ही पैसे के दो हलफनामे पर जमानत दी है। हालांकि चिदंबरम कोर्ट की इजाजत के बिना विदेश यात्रा नहीं कर सकेंगे।

इसके अलावा कोर्ट ने चिदंबरम को इस बात से भी सचेत किया है कि वह आईनेक्स मीडिया केस से जुड़े किसी भी गवाह से संपर्क ना करें और ना ही सार्वजनिक रूप से कोई इस मामले पर भाषण दे।

इससे पहले जस्टिस ए एस बोपन्ना, जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस ऋषिकेश राय की बेंच ने पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान ED को सभी दस्तावेज जमा करने का आदेश दिए था और कोर्ट ने पिछले गुरुवार को आईएनएक्स मीडिया केस पर फैसला सुरक्षित रख लिया था।

बताते की कांग्रेसी नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया केस में 21 अगस्त को गिरफ्तार कर पूछताछ के बाद उन्हें 6 सितंबर को तिहाड़ जेल भेज दिया गया था। गौरतलब है कि aircel-maxis मामले में पी चिदंबरम और उनके बेटे कीर्ति दोनों को पहले ही जमानत मिल चुकी है।

बतादे की सीबीआई ने 15 मई 2017 को आईएनएक्स मीडिया केस में मामला दर्ज किया था। इसमें आरोप था कि 2007 में कांग्रेस सरकार में तत्कालीन वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड द्वारा आईएनएक्स मीडिया समूह को 305 करोड़ रुपये का विदेशी निवेश की मंजूरी में गड़बड़ी हुई है जिसके बाद प्रवर्तन निदेशालय ने भी मनी लांड्रिंग का मामला दर्ज किया था।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …