तपती धूप में बेटी को गोद में और बेटे का हाथ पकड़े, महिला कांस्टेबल मुस्तैदी के साथ दे रही ड्यूटी

कोरोना महामारी के बीच राजस्थान के जोधपुर में कोरोना वारियर्स का एक अलग ही नजारा देखने को मिला। जोधपुर के महामंदिर रोड पर चिलचिलाती धूप में अपनी बेटी को गोद में लिए और बेटे का हाथ पकड़े महिला कांस्टेबल लॉकडाउन में अपनी ड्यूटी निभाते नजर आई। महिला कांस्टेबल की ड्यूटी के दौरान उस कड़ी धूप में दोनों मासूम बच्चे भी सड़क पर साथ नजर आए।

इस समय तेज धूप में जोधपुर के महामंदिर पुलिस थाने की महिला कांस्टेबल मंजू लॉकडाउन में अपने बच्चों के साथ बड़ी मुस्तैदी के साथ अपना फर्ज निभा रही है। महिला कांस्टेबल मंजू अकेले जोधपुर में बच्चों के साथ रहती हैं जबकि उनके पति निजी काम की वजह से अपने मूल गांव बिराई में रहते हैं।

मंजू के लिए अपने दोनों छोटे बच्चों को अकेले घर पर छोड़ना ठीक नहीं है। जिसके कारण अपनी ड्यूटी पर दोनों बच्चों को साथ लेकर आती हैं। दोनों बच्चे भी माँ की तरह तपती धूप में खड़े रहते हैं।

बच्चों के लिए इस कड़ी धूप में खड़ा रहना बहुत मुश्किल भरा काम है। महिला कांस्टेबल मंजू के साथ ड्यूटी करने वाले अधिकारी खेताराम ने बताया कि लॉकडाउन लगने के बाद से हमारी ड्यूटी महामंदिर क्षेत्र के मंडोर रोड पर एक नाके पर लगी है तब से हम यही पर अपनी ड्यूटी कर रहे हैं।

मंजू के घर पर बच्चों को संभालने वाला कोई नहीं है जिसकी वजह से वह अपने बच्चों को साथ लाना उनकी मजबूरी बन चुका है। महिला कांस्टेबल ने बताया कि नौकरी होने की वजह से वह जोधपुर में अकेले रहती है लेकिन कोरोना महामारी की वजह से मैं दो फर्ज निभा रही हूँ।

Check Also

केरल: गर्भवती हथिनी को खिलाया पटाखों से भरा अनानास, जबड़ा फटा, हो गयी गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत

केरल में कुछ शरारती लोगो ने एक गर्भवती हथिनी के मुँह में पटाखों से भरा …