कोरोना संकट के बीच पृथ्वी की तरह तेज़ी से आ रही नई मुसीबत, यहाँ जाने उल्कापिंड धरती के पास से कब गुजरेगा

कोरोना संकट के बीच दुनिया भर के लोगों के लिए एक नई मुसीबत पृथ्वी की तरफ तेजी से बढ़ रही है। नासा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पृथ्वी की तरह तेज गति से तीन उल्कापिंड बढ़ रहे हैं। जो शाम 6 बजकर 17 मिनट पर भारतीय समय अनुसार पृथ्वी के पास से गुजरेगा।

दूसरा बड़ा उल्कापिंड भारतीय समय अनुसार रात 9 बजकर 30 मिनट पर धरती के पास ही गुजर जाएगा। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के सेंटर Near-Earth Object Studies (CNEOS) के मुताबिक इस तरह के उल्कापिंड की संख्या 3 है यह सभी आज पृथ्वी की तरफ बहुत तेजी से आ रहे हैं। इनमें से एक 108 फीट चौड़ा 2020 KK7 भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजकर 15 मिनट पर पृथ्वी के पास से गुजरेगा।

सभी उल्का पिंड पृथ्वी की तरफ 34,000 मील प्रति घंटे की रफ्तार से आ रहे हैं दूसरा उल्कापिंड 11 फीट चौड़ा 2020 KD4 12 हजार मील प्रति घंटे की रफ्तार से पृथ्वी की तरफ चला रहा है। यह भारतीय समय अनुसार शाम 6 बजकर 17 मिनट पर पृथ्वी के पास से गुजरेगा।

तीसरा उल्कापिंड सबसे बड़ा और थोड़ा चिंताजनक है इसका नाम 2020 KF है जो 144 फीट चौड़ा है जो पृथ्वी के पास से 24000 से 38600 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से गुजरेगा यह भारतीय समय अनुसार 9:30 होगा।

नासा के मुताबिक, NEO ऑब्जरवेशन प्रोग्राम का मकसद उल्का पिंड की संख्या कम से कम 90 प्रतिशत का पता लगाना उन्हें ट्रैक करना और उनकी विशेषता के बारे में जानकारी जुटाना है। उल्कापिंड फुटबॉल के मैदान के आकार के बराबर भी होते हैं बड़े उल्कापिंड पृथ्वी के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं 140 मीटर से बड़ा उल्कापिंड कोई नहीं मिला है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …