INDvsENG 3rd test match Virat Kohli told what team India strategy will be against Pink Ball

0


भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही बाॅर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच कल से अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में खेला जाएगा। यह डे-नाइट टेस्ट मैच होगा। अमूमन टेस्ट मैच में रेड बाॅल प्रयोग की जाती है। लेकिन डे नाइट टेस्ट मैच में पिंक बाॅल का प्रयोग होता है। मैच से एक दिन पहले कप्तान विराट कोहली ने कहा पिंक बाॅल से बल्लेबाजी करना आसान नहीं होगा। 

एंडरसन की उम्र तक क्रिकेट खेलने के सवाल पर ईशांत ने दिया मजेदार जवाब

विराट ने मंगलवार वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ”कोलकाता में 2019 में बांग्लादेश  के खिलाफ खेले गए एक मैच में हमने अनुभव किया कि पिच के बजाए नई पिंक बाॅल को खेलना ज्यादा चुनौतीपूर्ण था। खासतौर पर  एक बल्लेबाजी टीम के लिए शाम की रोशनी में अपनी पारी शुरू करना बहुत मुश्किल था। खेल का वह आखिरी डेढ़ घंटा  बहुत चुनौतीपूर्ण रहा। स्पिन निश्चित रूप से आएगी, लेकिन मुझे नहीं लगता कि नई गेंद और तेज  गेंदबाजों को नजरअंदाज किया जा सकता है। पिंक बाॅल उन्हें तब तक खेल में  रखती है जब तक गेंद अच्छी और चमकदार होती है। हम कुछ चीजें अच्छी तरह से  जानते हैं और हम इसके मुताबिक ही तैयारी कर रहे हैं।”

बॉलिंग अटैक को लेकर इंग्लिश कप्तान जो रूट कन्फ्यूजन में

भारतीय कप्तान विराट ने कोलकाता पिंक बॉल टेस्ट के बारे में कहा, ”दिन के  पहला सेशन मे बल्लेबाजी करने के लिए सबसे आसान था। खासतौर पर तब जब सूरज ढल  जाए और गेंद ज्यादा हरकत न करे, लेकिन जब अंधेरा होने लगता है तब बल्लेबाजी  करना बहुत मुश्किल हो जाता है। रोशनी बदल जाती है। गेंद को देखना मुश्किल  हो जाता है। फिर यह रोशनी के अंदर एक सामान्य टेस्ट मैच में सुबह का पहला सत्र खेलने जैसा हो जाता है। गेंद बहुत स्विंग होती है। हम पिंक बॉल टेस्ट को एक जीत और एक ड्राॅ नहीं देख रहे हैं। हम दोनों को जीतना चाहते  हैं। हमारे लिए ये क्रिकेट के दो खेल हैं और हम केवल इसी चीज पर ध्यान  केंद्रित कर रहे हैं।”



Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।